स्टॉकहोम : भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को स्वीडन में अपने आधिकारिक दौरे के शुरुआत की। मोदी ने किंग कार्ल 16वें गुस्ताफ से रॉयल पैलेस में मुलाकात की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर कहा, "दिन की शाही शुरुआत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वीडन के किंग कार्ल 16वें गुस्ताफ से मुलाकात की।"

कुमार ने कहा, "नेताओं ने विभिन्न क्षेत्रों में द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने पर विचार साझा किए।" मोदी यूरोप के तीन देशों के अपने दौरे के पहले चरण में सोमवार को स्वीडन पहुंचे। यहां से वह ब्रिटेन और जर्मनी जाएंगे। मोदी मंगलवार शाम को स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टेफान लोवेन के साथ द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे, जिसके बाद कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए जाने की संभावना है।

ये भी पढ़ें :

PM पांच दिवसीय विदेश यात्रा पर रवाना, स्वीडन के राष्ट्रध्यक्ष करेंगे एयरपोर्ट पर करेंगे स्वागत

इसके अलावा मोदी और लोवेन, स्वीडन की कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ गोलमेज वार्ता में भाग लेंगे। भारत और स्वीडन मंगलवार को पहले इंडिया-नोरडिक शिखर सम्मेलन की सह अध्यक्षता करेंगे। इसमें मोदी और लोवेन के अलावा चार नोरडिक देश डेनमार्क, फिनलैंड, आइसलैंड और नॉर्वे के प्रधानमंत्री भी मौजूद रहेंगे। मोदी शिखर सम्मेलन से इतर चार अन्य नोरडिक देशों के नेताओं के साथ अलग अलग द्विपक्षीय बैठक करेंगे।

मोदी स्वीडन से ब्रिटेन के लिए रवाना होंगे, जहां वह ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे के साथ 18 अप्रैल को द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। वह अपनी यात्रा के दूसरे चरण के लिए लंदन रवाना होने से पहले मंगलवार देर रात को स्टॉकहोम विश्वविद्यालय में भारतीय समुदाय के सम्मेलन में भी शामिल होंगे।