यूपी (एटा): उत्तर प्रदेश के एटा में भी 8 साल की मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या की ताजा वारदात सामने आई है। हालांकि इस मामले में पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बीते दस दिनों के भीतर मासूम बच्चों के साथ यौन दुराचार की कई घटनाएं सामने हुईं। जिसके बाद पूरे देश में अपराधियों के खिलाफ गुस्से की लहर है। लोग ऐसी दरिंदगी करने वालों को फांसी की सजा देने की मांग करने लगे हैं।

गुजरात

सूरत में भी बाल यौन अपराध का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया। यहां 11 साल की बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई। हैरान करने वाली बात ये कि बच्ची के शरीर पर करीब 80 चोट के निशान पाए गए। आप समझ सकते हैं दरिंदों ने कितनी बेरहमी से मासूम की जान ली होगी।

दिल्ली

दिल्ली के अमन विहार में पीड़िता के साथ इंतहा की हद कर दी। 19 साल की लड़की का पहले अपहरण किया गया। फिर दस दिनों तक उसे बंधक बनाकर उसके साथ कई बार रेप किया गया। इस दौरान आरोपी ने उसके साथ मारपीट भी की।

उत्तर प्रदेश

यूपी के कानपुर देहात के रसूलाबाद इलाके में नाबालिग लड़की का पहले अपहरण किया। इसके बाद गांव के ही युवक ने उसके साथ कथित तौर पर दुष्कर्म किया।

फोटो सौजन्य: AFP 
फोटो सौजन्य: AFP 

बिहार: पहला मामला

बिहार की राजधानी पटना में नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया। पटना के भीड़ भाड़ वाले इलाके जीपीओ गोलंबर की इस घटना ने हर किसी को चौंका दिया। घटना मध्य रात्रि में हुई।

दूसरा मामला:

बिहार के ही सीवान गोरेयाकोठी थाना इलाके में दिव्यांग नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म किया गया। मामले में आरोपी पीड़िता का पड़ोसी ही निकला। जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

गुरुग्राम

गुरुग्राम में 23 साल की छात्रा के साथ पहले तो गैंगरेप किया गया। फिर उसकी अश्लील वीडियो बनाकर पीड़िता को शर्मिंदा करने की कोशिश की गई। मामले में आरोपी पीड़िता का फेसबुक फ्रैंड निकला।


ओडिशा

इससे पहले ओडिशा के बालेश्वर की घटना ने लोगों को हिलाकर रख दिया। बच्ची पास के गांव खेराना से किसी कार्यक्रम से लौट रही थी। सुनसान इलाके में 48 साल के आरोपी ने उसे धर दबोचा। बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद शख्स ने उसकी हत्या कर दी।

मध्य प्रदेश

ग्वालियर में एक सौतेले पिता ने 9 साल की मासूम बेटी के साथ दुष्कर्म किया। मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तरा कर लिया।

हाल के दिनों में जम्मू कश्मीर के कठुआ में मासूम की सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या और उन्नाव में बीजेपी विधायक द्वारा युवती के रेप के मामलों से पुरा देश आक्रोशित है। लोग इस बात की जरूरत पर जोर दे रहे हैं कि अब बहुत हुआ, दरिंदों को फांसी की सजा तो मिलनी ही चाहिए।