नयी दिल्ली: आसमान में परियों के साथ उड़ने की बात ख्वाबों में ही होती है। अगर ये सपना हकीकत बन जाय तो कैसा हो? जी हां, इस सपने को साकार करने का बीड़ा उठाया है वियतनाम की वियतजेट एयरलाइन ने। जो जल्दी ही अपनी उड़ान दिल्ली से वियतनाम के ची मिन्ह शहर के लिए शुरू करने वाला है। उम्मीद है कि इसी साल जुलाई अगस्त तक इस विमान की सेवाएं शुरू हो जाएगी।

यह भी पढ़ें:

‘उड़ान’ योजना के तहत पहली फ्लाइट हुई रवाना, सस्ती फ्लाइट का ले सकते हैं आनंद

वियतजेट एयरलाइन को 'बिकनी एयरलाइन' के नाम से भी जाना जाता है। एयरहोस्टेसेस की तस्वीरें देखकर तो आप अंदाजा लगा ही सकते हैं कि इसे बिकनी एयरलाइन नाम क्यों दिया गया है। दरअसल इस एयरलाइन को महिला उद्यमियों ने शुरू किया था, और इसे दुनियाभर में सफलतापूर्वक चलाया भी जा रहा है। मजेदार बात ये है कि इस एयरलाइन की एयरहोस्टेसेस का बिकनी और छोटा ड्रेस कोड हमेशा विवादों में रहा। कुछ देशों में इसकी ड्रेस कोड को लेकर आपत्ति भी जताई गई है।

फिलहाल एयरलाइन की सेवाएं थाईलैंड, वियतनाम, सिंगापुर, मलेशिया, दक्षिण कोरिया, म्यांमार, कंबोडिया, हॉन्ग कॉन्ग और ताईवान में उपलब्ध है। हालांकि एयरलाइन को साल 2016 में एशिया के टॉप 500 ब्रांड्स में शुमार किया गया है। अच्छी ब्रैंडिंग और बेहतर सेवा के बावजूद इस विमानन सेवा को कई बार आलोचनाओं का शिकार होना पड़ता है।

इस एयरलाइन को लेकर सोशल मीडिया पर भी खूब चर्चा होती है। इस दौरान एयरहोस्टेसेस के ड्रेस को लेकर तीखी प्रतिक्रियाएं भी लोग देते हैं। इसमें ड्रेस कोड को लेकर कई प्रयोग भी किए जाते हैं। कभी परिचारिकाएं स्विमिंग कास्ट्यूम में नजर आती हैं, तो कभी बिकनी में। हां इतना तो तय है कि एयरहोस्टेसेस के बदन के सत्तर प्रतिशत हिस्से पर कपड़े नहीं होते हैं।