नई दिल्ली : दिल्ली की एक विशेष अदालत ने आईएनएक्स मीडिया धन शोधन मामले में गिरफ्तार कार्ति चिदंबरम के सीए एस भास्कररमन की जमानत मंजूर कर ली है। भास्कररमन ने इस आधार पर जमानत मांगी थी कि उनसे हिरासत में पूछताछ जरूरी नहीं है और उन्हें हिरासत में रखकर कोई मकसद हल नहीं होगा।

कार्ति के सीए को 26 फरवरी को जेल भेजा गया था। इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय ने उनसे हिरासत में पूछताछ की थी। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की हिरासत में लेकर पूछताछ करने की अवधि समाप्त होने के बाद सीए को 26 फरवरी को जेल भेज दिया गया था।

यह भी पढ़ें :

मैं निर्दोष साबित होऊंगा : कार्ति चिदंबरम

ईडी ने चिदंबरम के बेटे कार्ति की 1.16 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की

चिदंबरम का जेटली पर वार, कहा- उनकी जगह होता तो इस्तीफा दे देता

INX मीडिया केस : CBI चाहती है कार्ति चिदंबरम के नारको टेस्ट की इजाजत

ईडी ने उसे 16 फरवरी को राष्ट्रीय राजधानी के एक पांच सितारा होटल से गिरफ्तार किया था। ईडी ने पहले दावा किया था कि पूछताछ के दौरान इस बात का खुलासा हुआ है कि भास्कररमन अवैध तरीके से जुटाए गए धन को ठिकाने लगाने में कार्ति की सहायता करता था।