नई दिल्ली: धन दौलत के मामले में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू सबसे अमीर हैं। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) और नेशनल इलेक्शन वॉच (NEW) की रिपोर्ट में ये खुलासा हुआ है। कुल 31 मुख्यमंत्रियों की संपत्तियों का विश्लेषण करने के बाद इस तथ्य का खुलासा हुआ है।

हालांकि संपत्तियों का आंकलन चुनाव आयोग को दिए एफिडेविट के आधार पर किया गया है। इसमें सीएम चंद्रबाबू नायडू ने चुनाव आयोग के सामने खुद 177.48 करोड़ की संपत्ति का ब्यौरा दिया है।

सारांश

मुख्यमंत्रियों की संपत्ति की फेहरिस्त

एन चंद्रबाबू नायडू (आंध्र प्रदेश) - 177.48 करोड़

पेमा खांडू (अरुणाचल प्रदेश) - 129.57 करोड़

अमरिंदर सिंह (पंजाब) - 48.31 करोड़

के चंद्रशेखर राव (तेलंगाना) - 15.51 करोड़

देश के मुख्यमंत्रियों की औसत संपत्ति 16.18 करोड़ बताई गई है। यानी औसत से दस गुनी अधिक संपत्ति के मालिक हैं सीएम चंद्रबाबू नायडू। वहीं तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर से चंद्रबाबू करीब दस गुना ज्यादा पैसे वाले हैं। करोड़पति मुख्यमंत्रियों में टॉप थ्री कांग्रेस से हैं। वहीं त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने अपनी संपत्ति सबसे कम जाहिर की है। इनके पास महज 26 लाख की संपत्ति है।

रिपोर्ट के मुताबिक चंद्रबाबू नायडू, केरल के सीएम पिनाराई विजयन और जम्मू-कश्मीर की महबूबा मुफ्ती पर कोई आपराधिक मामला नहीं है। जबकि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर सबसे अधिक 22 आपराधिक मामले दर्ज हैं। गंभीर मामलों की बात करें तो दिल्ली के मुख्यमंत्री इसमें सबसे अव्वल हैं। इनके खिलाफ अधिकतम चार गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं।