हैदराबाद : YSRCP के सांसद विजयसाई रेड्डी ने संसद की कार्यवाही के दौरान कहा कि केंद्रीय मंत्री सुजना चौधरी ने संविधान का उल्लंघन किया है। सुजना चौधरी ने मंत्री होने के बावजूद सरकार को सलाह दी है। उन्होंने याद दिलाया कि सभापति ने भी कहा था कि इस तरह सलाह देना गलत नहीं है। विजयसाई रेड्डी ने सवाल करते हुए कहा कि सुजना चौधरी क्या सरकार के मंत्रीमंडल में शामिल है या नहीं।

उन्होंने आगे कहा कि सुजना चौधरी को यदि सरकार के खिलाफ बयान देना है तो पहले वे अपने पद से इस्तीफा दें। सांसद ने कहा राजग के साथ टीडीपी का गठबंधन है। इसलिए टीडीपी के जनप्रतिनिधी आंध्र प्रदेश के साथ हुए अन्याय को लेकर सवाल नहीं कर सकेंगे। राज्य के साथ उन्हें न्याय करना है तो पदों से इस्तीफा देना होगा। उन्होंने आरोप लगाया कि टीडीपी केवल अपने स्वार्थ के लिए राज्य के साथ न्याय करने का नाटक कर रही है।

और पढ़िए :

केवीपी रामचंद्र राव का आरोप, चंद्रबाबू ने किया विकास को नजरअंदाज

राज्य विभाजन के बाद आश्वासनों को पूरा करने की मांग को लेकर YSRCP के सांसद संसद में रट लगा रहे हैं। शुक्रवार को दोपहर राज्यसभा की कार्यवाही पुन: शुरू हुई। इस कार्यवाही के आरंभ होते ही सांसद विजयसाई रेड्डी ने अपनी बात रखी।