कांग्रेस, तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) और वाईएसआर कांग्रेस के हंगामे के कारण एक बार के स्थगन के बाद लोकसभा की कार्यवाही पांच मार्च सुबह 11 बजे तक के लिये स्थगित कर दी गई। संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण अब पांच मार्च से शुरू होकर छह अप्रैल तक चलेगा।

आंध्रप्रदेश पुनर्गठन अधिनियम के प्रावधानों को लागू करने, पृथक रेलवे जोन तथा कुछ अन्य मांगों को लेकर चार दिनों से लोकसभा में प्रदर्शन कर तेदेपा और वाईएसआर कांग्रेस के सदस्यों का हंगामा आज भी जारी रहा । हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही आज शुरू होने के करीब पांच दिन बाद दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

ये भी पढ़े :

आंध्रप्रदेश को विशेष दर्जा दिलाने के लिए राज्यसभा में जमकर हुआ हंगामा

कार्यवाही फिर से आरंभ होने पर तेदेपा और वाईएसआर की नारेबाजी के बीच कांग्रेस के सदस्यों ने राफेल विमान सौदे के मुद्दे पर हंगामा किया। सदन में हंगामे के बीच आवश्यक कागजात सभा पटल रखे जाने के बाद लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कार्यवाही पांच मार्च की सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। कांग्रेस के सदस्यों ने हाथों में पोस्टर ले रखा था और ‘रक्षा मंत्री जवाब दो' ‘राफेल की कीमत बताओ' जैसे नारे लगा रहे थे। उस दौरान कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी भी मौजूद थीं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी के नेताओं ने राफेल सौदे में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है, हालांकि सरकार ने इन आरोपों को सिरे से खारिज किया। कुछ दिनों पहले लोकसभा में कांग्रेस के मुख्य सचेतक ज्योतिरादित्य सिंधिया और पार्टी के वरिष्ठ नेता वीरप्पा मोइली ने राफेल विमान सौदे को लेकर श्वेत पत्र की मांग की थी।

राफेल मामले पर कांग्रेस के आरोपों का जवाब देते हुए वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कल लोकसभा में कहा था कि कहा कि इस सौदे की जानकारी सार्वजनिक करने की मांग करके राहुल गांधी भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ गंभीर समझौता कर रहे हैं और इस बारे में उन्हें प्रणब मुखर्जी से सीखना चाहिए । आज सुबह सदन की कार्यवाही आरंभ होने पर तेदेपा के सदस्य नारेबाजी करते हुए अध्यक्ष के आसन के निकट पहुंच गए। उनके साथ वाईएसआर कांग्रेस के सदस्य भी हाथों में तख्तियां लेकर खड़े रहे।

शोर शराबा कर रहे सदस्य ‘‘वी वांट जस्टिस'', ‘‘वादों का क्या हुआ'' जैसे नारे लगा रहे थे । हंगामे के बीच अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने प्रश्नकाल चलाने का प्रयाय किया लेकिन सदस्यों का हंगामा जारी रहा। तेदेपा के सदस्य अपनी मांगों को लेकर मंगलवार से हंगामा कर रहे हैं।

उनके साथ वाईएसआर कांग्रेस के सदस्य भी उनके साथ सदन में खड़े रहे। आंध्र के मुद्दे पर वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कल लोकसभा में कहा था कि आंध्र के विषय पर सदस्यों की आंकाक्षा के अनुरूप विशेष पैकेज और राजस्व हानि के महत्वपूर्ण मुद्दों को अगले कुछ दिनों में सुलझा लिया जायेगा ।