नयी दिल्ली : वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने आज देश के पूर्वी और पश्चिमी तटों पर वाहन संकुल का विकास करने पर जोर दिया। इससे इस क्षेत्र की वृद्धि और निर्यात को प्रोत्साहन मिलेगा।

प्रभु ने कहा कि वह आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायुडू के साथ राज्य में वाहन संकुल के विकास के लिए बातचीत करेंगे। उन्होंने यहां वाहन कलपुर्जा प्रदर्शनी के उद्घाटन के मौके पर कहा कि वह विशाखापट्टनम में भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईसीआई) के आगामी सम्मेलन में मुख्यमंत्री से इस बारे में बात करूंगा।

मंत्री ने कहा कि वह चाहते हैं कि वाहन उद्योग को पूर्वी तट पर बंदरगाह आधारित बुनियादी ढांचा उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा, ‘‘महाराष्ट्र में पश्चिमी तट पर भी हम यही चीज करेंगे। इससे निर्यात को बढ़ाया जा सकेगा।''

प्रभु ने कहा कि आगामी वर्षों में अर्थव्यवस्था 5,000 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगी। इसमें से 1,000 अरब डॉलर वस्तुओं और सेवाओं के निर्यात से आएंगे। उन्होंने कहा कि इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए मंत्रालय एक विस्तृत रणनीति बना रहा है।