नेल्लूर (आंध्रप्रदेश) : वाईएसआरसीपी के अध्यक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि केंद्र सरकार के बजट को देखकर मुख्यमंत्री चंद्रबाबबू नायुडु तिलमिला गये हैं। मगर उनको समर्थन करने वाली मीडिया उन्हें भटका रही है। यह सब देखकर आश्चर्य हो रहा है।

जगन मोहन रेड्डी ने 80वें दिन की प्रजा संकल्प यात्रा के दौरान कोवूर निर्वाचन क्षेत्र के बुच्चीरेड्डीपालेम में आयोजित आमसभा में यह बात कही।

जगन ने कहा, "पिछले तीन दिनों से टीवी देखकर लग रहा है आखिर राज्य में क्या हो रहा है। यह सब देखकर मुझे भी आश्चर्य हो रहा है। टीडीपी के नेता बता रहे है कि बजट को देखकर चंद्रबाबू नायुडू का दिल तिलमिला गया है। सोचने की बात यह है कि पिछले चार सालों से चंद्रबाबू नायुडू एनडीए की गठबंधन में शामिल है। उनके सांसद में केंद्र में मंत्री हैं। अब तक पांच बजट पेश किये गये।“

जगन ने आगे कहा, “बजट से पहले मंत्रिमंडल की बैठक होती है। इसके बाद ही बजट को मंजूरी दी जाती है। इसका अर्थ है कि टीडीपी के मंत्रियों की सहमति के बाद ही बजट को मंजूरी मिली है। ऐसे समय में बजट में आंध्रा के साथ अन्याय हो गया है कहकर किस आधार पर कह रहे है? यदि राज्य के साथ अन्याय हो गया है तो आपके सांसद तब क्या कर रहे थे?”

वाईएसआरसीपी अध्यक्ष ने कहा, “चंद्रबाबू इस समये घड़ियालू के आंसू बहा रहे है। चुनाव के समय चंद्रबाबू को लोग याद आते हैं। लोगों के साथ अन्याय हुआ है यह बात भी वो मानते है।”

जगन ने लोगों से आह्वान किया है कि ऐसे धोखेबाज मुख्यमंत्री से इस राज्य को अब मुक्त करने का समय आ गया है। उन्होंने कहा कि नेल्लूर विकास के लिए दिवंगत वाईएसआर ने अनेक कार्यक्रम अमल में लाये थे। चंद्रबाबू ने उन सभी योजनाओं को धराशायी कर दिया है। मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायुडु केवल कमीशन के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले चुनाव में ऐसे धोखेबाज मुख्यमंत्री को गद्दी से हटाने का हम सभी संकल्प ले।