तिरूवनंतपुरम : सदियों पुराने रॉक मंदिर और इसके हरेभरे प्रांगण को जल्द ही केरल की राजधानी के पास पर्यटक स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। यह मंदिर समुद्र तल से करीब 1800 फुट ऊंचा है। केरल पर्यटन और राज्य पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ने संयुक्त रूप से पर्वतीय मदावूरपारा मंदिर को बड़े पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करने के लिए करोड़ों रुपयों की परियोजना शुरू की है।

खुशखबरी ! अब इस एप के जरीए बिना इंटरनेट से मनोरंजन का आंनद उठा पाएंगे यात्री

भारतीय युवा पर्यटकों के बीच डींग हांकने का नया दौर: सर्वेक्षण

यह स्थल तिरूवनंतपुरम से करीब 20 किलोमीटर दूरी पर स्थित है। पर्यटन सूत्रों ने कहा कि 22 एकड़ जमीन पर फैला यह शैल मंदिर भगवान शिव को समर्पित है और इसके आस पास विहंगम दृश्य देखने को मिलते हैं। राज्य के पर्यटन मंत्री कदाकमपल्ली सुरेंद्रन ने कल यहां एक समारेाह में इस विकास परियोजना का उद्घाटन किया।