लखनऊ : मध्य प्रदेश के बहुचर्चित व्यापमं घोटाले से जुड़े एक मामले में सीबीआई ने कार्रवाई करते हुए यूपी के बाराबंकी जिले के हैदरगढ़ से एक डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। शुक्रवार को हुई इस कार्रवाई के बाद सीबीआई आरोपी डॉक्टर को कोर्ट में पेश करेगी।

जानकारी के अनुसार, आरोपी डॉ. वीरेन्द्र मौर्या काफी दिनों से फरार चल रहा था। उसकी तैनाती रायबरेली जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जटुवा टप्पा में थी। व्यापमं के माध्यम से कराई गई एमपीपीएमटी- 2012 की परीक्षा में धांधली से जुड़े एक मामले में सीबीआई ने 23 नवंबर 2017 को डॉ. मौर्या के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी।

वीरेन्द्र मौर्या ने कानपुर में साल 2012 में राजकीय मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस का छात्र होते हुए भी व्यापमं की एमपीपीएमटी-2012 की परीक्षा में हिस्सा लिया। एमबीबीएस में उसका प्रवेश वर्ष 2008 में ही हो गया था।

यह भी पढ़ें :

मप्र व्यापमं घोटाला : शिवराज सरकार को सीबीआई ने दी बड़ी राहत

व्यापमं घोटाले में 592 आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल, कई रसूखदारों के नाम शामिल