हैदराबाद : भारतीय जनता पार्टी के नेता नागम जनार्दन रेड्डी ने कहा कि वह शीघ्र ही पार्टी बदलने वाले है। मगर इस वक्त तो वह बीजेपी में ही है।

नागम ने गुरुवार को मीडिया से आगे कहा कि उगादी त्योहार के बाद भविष्य की रणनीति के बारे में फैसला लेंगे। साथ ही कहा कि उनके समर्थकों के सुझावों के अनुसार ही भविष्य के बारे में फैसला लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि उनके समर्थकों में प्रदेश बीजेपी के नेतृत्व को लेकर असंतोष है।

नागम ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव पर आरोप लगाया है कि चुनाव के दौरान दिये गये आश्वासनों की अमलावरी करने में टीआरएस सरकार पूरी तरह से असफल रही है। केसीआर का दुनिया का सबसे बड़ा भ्रष्ट परिवार है। उन्होंने यह भी मांग की है कि शीघ्र ही ग्राम पंचायतों को चुनाव करवाये जाये।

यह भी पढ़ें :

बंड्ला गणेश के खिलाफ एट्रासिटी एक्ट का मामला दर्ज, जानने के लिए पढ़ें पूरी खबर

नेल्लूर मेयर और दो अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज, यह है वजह...

बता दें कि नागम जनार्दन रेड्‍डी पिछले 30 सालों से नागरकर्नूल निर्वाचन क्षेत्र से विजयी होते आये है। उनकी ताजा घोषणा से लग रहा है कि नागम कौन सा फैसला लेंगे इस ओर सबकी नजरें लगी हुई है। इस समय नागम बीजेपी के मुख्य नेता के रूप में जाने जाते है। यह प्रचार जोरों पर है कि वो इस बार विधानसभा चुनाव लड़ने का मन बना लिया है।

ये भी पढ़े :

आधार से जुड़ी जानकारी को सुरक्षित बनाएगा यह नया सिस्टम, जानिए क्या है खासियत

इस DM-SDM ने की थी लालू की पैरवी, अब योगी सरकार के निशाने पर हैं अफसर

आधार को बदनाम करने के लिए चलाया जा रहा है अभियान : नीलेकणि

जनार्दन रेड्डी ने कईं बार इस बात को निराधार बताया कि वो कांग्रेस पार्टी में शामिल होने वाले है। इसी क्रम में नागम की आज की घोषणा से नागरकर्नूल निर्वाचन क्षेत्र में गहमा-गहम बहस चल पड़ी है कि वो भविष्य के बारे में कैसा फैसला लेेने वाले हैं।