नई दिल्ली : जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय (जेएनयू) से पीएचडी कर रहा 26 वर्षीय एक छात्र परिसर से लापता हो गया है। इस घटना से काफी समय पहले जेएनयू के ही छात्र नजीब के लापता होने की घटना भी सामने आई थी। पुलिस ने बताया कि लाइफ साइंस पाठ्यक्रम का छात्र मुकुल जैन आठ जनवरी से लापता है।

दक्षिण-पश्चिमी जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आठ जनवरी की शाम को गुमशुदगी का मामला दर्ज किया गया था। उन्होंने बताया कि इसके पीछे अभी तक किसी तरह की साजिश का शक नहीं है।

इस घटना से पहले नजीब अहमद 16 अक्टूबर, 2016 को विश्वविद्यालय के माही-मांडवी छात्रावास से लापता हो गया था। लापता होने से एक रात पहले उसकी एबीवीपी से कथित तौर पर जुड़े कुछ छात्रों से बहस हुई थी।

घटना के एक महीने बाद नजीब की मां दिल्ली उच्च न्यायालय पहुंची थीं जहां उन्होंने उसका पता लगाने के लिए पुलिस को निर्देश दिए जाने की गुहार लगाई थी। पिछले साल 16 मई को उच्च न्यायालय ने नजीब के लापता होने के मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी थी।