भद्राद्री कोत्तागुडेम : महिला हत्यारों की सूची लगातार बढ़ती जा रही है। सिवाय इसके कि इस बार शिकार उसकी सास थी। एक 40 वर्षीय महिला ने अपनी सास से छुटकारा पाने के लिए हत्यारों को सुपारी दी और अग्रिम के रूप में एक लाख रुपये मूल्य के सोने की चैन दी और वादा किया कि काम होने के बाद वह एक लाख रुपये और देगी।

यह घटना जिले में पलांचा की है। भाग्यलक्ष्मी नामक महिला ने हत्यारों की सहायता से सोमवार रात को अपनी सास की हत्या कर दी, लेकिन उसके पति को शक होने और पुलिस से इस बारे में शिकायत किये जाने के बाद मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने इस संदर्भ में भाग्यलक्ष्मी समेत चार लोगों को मंगलवार के दिन हिरासत में ले लिया ।

पूछताछ के दौरान भाग्यलक्ष्मी ने सास की हत्या की बात को स्वीकार करते हुए बताया कि उसकी सास शादी के बाद से ही उसे काफी परेशान कर रही थी। इससे उसने उसकी हत्या करने की ठान ली। इसके लिए उसने किराये के हत्यारे वीरभद्रम, लक्ष्मण और सतीश से संपर्क किया और दो लाख रुपये में सौदा हुआ।

सोमवार रात को पति के ड्यूटी पर चले जाने के बाद उसने वीरभद्रम, लक्ष्मण और सतीश को घर बुलाया और तकिये से गला दबाकर अपनी सास दुर्गम्मा की हत्या कर दी। हत्या करने के बाद उसने पति को बताया कि उसकी मां की मौत हो गयी है। लेकिन उसके पति को शक हुआ और उसने पुलिस को इस बारे में शिकायत की।

पुलिस तुरंत घटना स्थल पर पहुंचकर भाग्यलक्षमी से कड़ाई से पूछताछ की। पूछताछ के दौरान भागयलक्ष्मी ने अपना गलती स्वीकार कर लिया। पुलिस ने भाग्यलक्षमी के अलावा वीरभद्रम, लक्ष्मण और सतीश को हिरासत में ले लिया और शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।