नई दिल्ली : भाजपा द्वारा राहुल गांधी पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नकल करने का आरोप लगाये जाने पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने आज आरोप लगाया कि केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने पिछले साढ़े तीन साल के शासनकाल में विदेश नीति, कूटनीति और पड़ोसी देशों के साथ सम्बन्धों के परखच्चे उड़ा दिये हैं।

राहुल के बहरीन में प्रवासी भारतीयों को संबोधित करने पर भाजपा द्वारा लगाये आरोपों के बारे में पूछने पर कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी और उनके अध्यक्ष में इतनी समझ तो जरुर है कि जो श्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले साढ़े तीन-पौने चार वर्ष में किया है, उसको बिल्कुल अनुसरण नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े तीन वर्ष में भारत की विदेश नीति, कूटनीति, पड़ोसियों के साथ भारत के जो रिश्ते हैं, उनके राजग सरकार ने परखच्चे उड़ा दिए हैं।

आज ना देश की विदेश नीति है, ना कूटनीति है, ना पड़ोसियों के प्रति कोई कूटनीति है। तिवारी ने दावा किया कि भारत आज जिस तरह से अंतरराष्ट्रीय संकट में घिरा है, उतना पहले कभी नहीं था। उन्होंने सवाल किया कि क्या किसी दबाव की स्थिति में भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के किसी स्थायी सदस्य पर भरोसा रख सकता है। उन्होंने कहा कि भारत ने बहुत परिश्रम के साथ पिछले 70 साल में विभिन्न देशों के साथ संबंध बनाये हैं। उन्होंने दावा कि पिछले साढ़े तीन साल में राजग सरकार ने इन रिश्तों को ध्वस्त कर दिया।

कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी के पहले विदेश दौरे में बहरीन जाने के बीच भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता जेवीएल नरसिम्हा राव ने राहुल पर हमला किया है। राव ने आज ट्वीट कर कहा, राहुल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की नकल कर रहे हैं। मोदी जी की तरह, राहुल महाविद्यालय,मंदिरों और अब एनआरआई के पास गए। नकल प्रशंसा का सबसे अच्छा रुप है,लेकिन यह सफलता नहीं देता है। लोग अक्सर नकल का आनंद लेते हैं लेकिन वास्तविक चीज के लिए सीटी बजाते है,वोट देते हैं। राहुल आज बहरीन दौरे पर हैं जहां उनका प्रवासी भारतीयों के एक सम्मेलन को संबोधित करने का कार्यक्रम निर्धारित था।