सियोल : दो सबसे बड़े स्मार्टफोन निर्माता सैमसंग और एलजी ने शनिवार को दावा किया कि वे पुरानी बैटरियों वाले अपने फोन को धीमा नहीं करते हैं, जैसा कि एप्पल ने आईफोन्स के साथ अप्रत्याशित शट डाउन से बचाने के लिए किया, जिसे बाद में एप्पल ने स्वीकार भी किया।

फोनएरेना ने सैमसंग के हवाले से कहा, "उत्पाद की गुणवत्ता हमेशा से सैमसंग मोबाइल की शीर्ष प्राथमिकता रही है। हम बहुस्तरीय सुरक्षा उपायों के माध्यम से बैटरी का लाइफ बढ़ाते हैं, जिसमें सॉफ्टवेयर एल्गोरिदम भी शामिल है जो बैटरी की चार्जिग करेंट और चार्जिग अवधि का प्रबंधन करता है।"

कंपनी ने कहा, "हम अपने फोन्स के अपडेट जारी कर उसकी सीपीयू की प्रदर्शन क्षमता को घटाते नहीं हैं।" इसी तरह का बयान एलजी ने भी जारी किया है और कहा कि वह अपने स्मार्टफोन्स को धीमा नहीं करती है।

ताईवान की प्रमुख दिग्गज कंपनी एचटीसी और लेनोवो के स्वामित्व वाली मोटोरोला ने भी पुष्टि की है कि वे अपने पुराने फोन को पुरानी बैटरियों के कारण धीमा नहीं करते हैं।

एप्पल द्वारा अपने पुराने आईफोन्स को धीमा करने के खिलाफ अमेरिका में 8 मुकदमे दर्ज किए गए हैं, इसके अलावा कंपनी पर इजरायल और फ्रांस में भी कानूनी कार्रवाई की जा रही है।