मुंबई: अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े, वैश्विक बाजारों का प्रदर्शन, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर के खिलाफ रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतों का प्रदर्शन मिलकर तय करेंगे।

संसद में चल रहे शीत सत्र पर भी निवेशकों की नजर बनी हुई है, जहां कई अहम विधेयक पारित किए जा रहे हैं। शीत सत्र 5 जनवरी तक चलेगा।

अगले सप्ताह वाहन कंपनियों पर भी निवेशकों की नजर बनी रहेगी, वे सोमवार से दिसंबर की बिक्री के आंकड़े जारी करना शुरू कर देंगी।

मार्किट इकोनॉमिक्स देश के विनिर्माण क्षेत्र के दिसंबर के मासिक आंकड़े मंगलवार (2 जनवरी) को जारी करेगी। निक्केई इंडिया मैनुफैक्चरिंग पर्चेजिंग मैनेजर्स सूचकांक नवंबर में बढ़कर 52.6 पर रहा था, जबकि अक्टूबर में यह 50.3 पर था। इस सूचकांक में 50 से कम का अंक मंदी और 50 से ऊपर अंक तेजी का सूचक है।

मार्किट इकोनॉमिक्स देश के सेवा क्षेत्र में अपने मासिक सर्वेक्षण का दिसंबर का आंकड़ा गुरुवार (4 जनवरी) को जारी करेगी। निक्केई इंडिया सर्विसेज पीएमआई नवंबर में नकारात्मक स्तर पर आ गया था और यह 48.5 रहा था, जबकि अक्टूबर में यह 51.7 पर था।

वैश्विक मोर्चे पर, काइशिन चायना जनरल मैनुफैक्चरिंग पीएमई का दिसंबर का आंकड़ा, आईएसएस मार्किट यूरोजोन मैनुफैक्चरिंग पीएमआई का दिसंबर का आंकड़ा और आईएचएस मार्किट यूएस मैनुफैक्चरिंग पीएमआई का दिसंबरा का आंकड़ा, तीनों आंकड़े मंगलवार (2 जनवरी) को जारी किए जाएंगे।

काइशिन इंडिया चायना जनरल सर्विसेज पीएमआई का दिसंबर का आंकड़ा और आईएचएस मार्किट यूएस सर्विसेज पीएमआई का दिसंबर का आंकड़ा गुरुवार (4 जनवरी) को जारी किया जाएगा।

अमेरिकी बाजार सोमवार को नववर्ष के मौके पर बंद रहेंगे।