कोलकाता : कलकत्ता उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश सीएस कर्णन बुधवार को जेल से रिहा हो गए। कर्णन सर्वोच्च न्यायालय की अवमानना के लिए छह महीने कारावास की सजा काटने के बाद रिहा हुए हैं।

सेवानिवृत्त न्यायाधीश कर्णन सूट व नीले रंग की टाई पहने हुए थे। कर्णन प्रेसीडेंटी सुधार गृह से सुबह करीब 10.30 बजे बाहर आए। जेल के बाहर कर्णन के स्वागत में उनकी पत्नी सरस्वती कर्णन व उनके बड़े बेटे खड़े थे। वे मंगलवार शाम चेन्नई से यहां पहुंचे थे।

कर्णन के वकील मैथ्यू जे. नेदुम्पारा ने कहा कि कर्णन कुछ दिन कोलकाता में रुकेंगे। नेदुम्पारा ने कहा, "कर्णन अपने निजी कार्यों की वजह से कुछ दिनों तक कोलकाता में रुकेंगे। इसके बाद वह चेन्नई जाएंगे।"

यह भी पढ़ें :

जस्टिस कर्णन ने राष्ट्रपति से मांगी माफी

सजा से भागते रहे न्यायमूर्ति कर्णन गिरफ्तार

नेदुम्पारा ने कहा, "न्यायाधीश कर्णन प्रेसीडेंसी जेल से रिहा हो गए। सर्वोच्च न्यायालय ने उन्हें नौ मई को सजा सुनाई थी।"

कर्णन महीनेभर भूमिगत रहे थे। इसके बाद पश्चिम बंगाल पुलिस ने उन्हें तमिलनाडु के कोयंबटूर से 20 जून को गिरफ्तार किया था। वह तभी से प्रेसीडेंसी जेल में थे।

-आईएएनएस