चेन्नई: मुथूट समूह की प्रमुख कंपनी मुथूट फाइनेंस ने एक नई ऋण योजना शुरु की है। यह योजना लघु एवं मझोले उपक्रमों (एसएमई) को लक्ष्य कर पेश की गई है। इस योजना के तहत मुथूट फाइनेंस सोने के बदले 10 लाख रपये तक का कर्ज 12 प्रतिशत ब्याज पर उपलब्ध कराएगी। अभी यह कर्ज 14 से 15 प्रतिशत की ब्याज पर दिया जाता है। कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक के.आर. बिजिमॉन ने कहा, यह एक विशिष्ट पेशकश है, जिससे सभी वर्गों के ग्राहकों को फायदा होगा। कंपनी को जून, 2018 तक ऊंचे ऋण में ग्राहक आधार बढकर 10 प्रतिशत पर पहुंचने की उम्मीद है। अभी यह चार प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि यह ऋण कंपनी की 4,200 शाखाओं पर उपलब्ध होगा। कंपनी प्रतिदिन दो लाख ग्राहकों को सेवाएं देती है। तमिलनाडु में कंपनी के प्रबंधन के तहत 30 सितंबर, 2017 तक 4,804 करोड रपये की परिसंपत्तियां थीं।

कंपनी अपने नए ऑफर को लेकर काफी उत्साहित है। व्यापक तौर पर इस स्कीम को लागू करने से पहले कुछ महानगरों में प्रयोग के तौर पर ये ऋण मुहैया कराए गए हैं। जिसका काफी अच्छा रिस्पॉन्स रहा। मुथूट फाइनेंस प्रबंधन को लगता है कि वे अपनी इस नई योजना के जरिए मेक इन इंडिया कार्यक्रम में भी सहयोग कर पाएंगे।