मनीला : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आसियान शिखर सम्मेलन में शिरकत करने के लिए आज तीन दिवसीय फिलीपीन यात्रा के लिए रवाना हुए। सोमवार को शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की द्विपक्षीय बैठक होगी।

आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी और कहा कि मोदी व ट्रंप के बीच सोमवार को बैठक हो सकती है। प्रधानमंत्री मोदी 15वें आसियान शिखर सम्मेलन व 12वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए फिलीपीन रवाना हो चुके हैं। ट्रंप भी एशिया के पांच देशों की अपनी यात्रा के तहत आज वहां पहुंचने वाले हैं।

भारत, अमेरिका, जापान व आस्ट्रेलिया के बीच चतुर्पक्षीय गठजोड़ बनाने के प्रस्ताव के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली बैठक होगी। जापान ने पिछले महीने संकेत दिया था कि वह अमेरिका, भारत व आस्ट्रेलिया के बीच शीर्ष स्तरीय संवाद का प्रस्ताव करेगा।

यह भी पढ़ें :

ट्रंप ने भारत के विकास की कहानी, मोदी की सराहना की

मोदी ने जताया जनता का आभार, विपक्ष ने याद दिलायी ATM की कतार

मोदी की सुरक्षा खर्च का ब्यौरा देने से PMO ने किया इनकार, राष्ट्रपति पर 155.4 करोड़ का खर्चा

सूत्रों ने कहा कि चारों देशों के अधिकारी यहां आसियान शिखर सम्मेलन के अवसर पर मिल सकते हैं। जापान के कदम पर प्रतिक्रिया में भारत ने कहा था कि वह अपने हितों के लिए समान सोच वाले देशों के साथ काम करने को तैयार है।

अमेरिका ने कहा था कि उसे भारत, जापान व आस्ट्रेलिया के साथ कार्य स्तरीय चतुर्पक्षीय बैठक की अपेक्षा है। मोदी व ट्रंप अपनी बैठक में क्षेत्र के सुरक्षा परिदृश्य सहित साझा हितों के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कर कर सकते हैं। ट्रंप ने शनिवार को ही भारत की आर्थिक वृद्धि व प्रधानमंत्री मोदी की सराहना की थी।

इस बीच प्रधानमंत्री मोदी ने उम्मीद जताई है कि उनकी इस यात्रा से फिलीपीन के साथ भारत के द्विपक्षीय रिश्तों को भी नया बल मिलेगा तथा आसियान देशों के साथ उसके राजनीतिक, आर्थिक व सामाजिक संबंध मजबूत होंगे।