लखनऊ : समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार को प्रदेश की भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला और कहा कि योगी आदित्यनाथ सरकार सिर्फ बातों में विकास कर रही है। प्रदेश सरकार उनके (सपा) द्वारा कराए गए कार्यों को अपना बताने में जुटी है। अखिलेश ने यह भी कहा कि अब सपा के पास खोने को कुछ नहीं है, समाजवादी पार्टी को अब तो सिर्फ पाना ही पाना है।

डॉ. राममनोहर लोहिया की 50वीं पुण्यतिथि के अवसर पर गुरुवार को लोहिया ट्रस्ट में उनकी प्रतिमा को माल्यार्पित करने के बाद पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से बातचीत में अखिलेश ने योगी सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा, "योगी सरकार सिर्फ बातों में विकास कर रही है। हमारे समय के कामों को अपना बता रही है। इतना ही नहीं, अब तो यहां जो भी उद्घाटन हो रहा है, उसमें से हमारे नाम का शिलापट भी हटाया जा रहा है।"

उन्होंने कहा, "भाजपा के लोग छोटे दिल के लोग हैं। हमने लोहिया ग्रामीण बसें दी थीं। इन लोगों ने उसका रंग ही बदल दिया। हमारे समय की बसों में रंग पुता लिया।"

अयोध्या में रामायण सर्किट में शिलापट्ट लगाने को लेकर हुए विवाद पर उन्होंने कहा कि भाजपा अगर हमारे पत्थर हटाएगी तो हम सरकार हटा देंगे।

प्रदेश की कानून व्यवस्था पर उन्होंने कहा, "अब तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद ही स्वीकार कर रहे हैं कि उप्र की पुलिस भ्रष्टाचार कर रही है। इस सरकार के कार्यकाल में अन्याय बढ़ा है। सरकार ने एंटी रोमियो दल बनाया। इसके बाद जब लोग पकड़े गए तो वह भाजपा के ही कार्यकर्ता थे। इसके बाद एंटी रोमियो दल को भंग कर दिया गया।"

अखिलेश ने कहा, "वहां पर उनका तीर निशाने पर नहीं गया, वहीं गिर गया। लगता है कि अब उनका हर निशाना चूकने वाला है। जो आंखों को देखने पर अच्छा लगे वो ही सही मायने में विकास है। अब हमको 2019 की तैयारी करनी है और 2022 की भी है। अब हमारे पास खोने को कुछ नहीं है, सपा को अब तो सिर्फ पाना ही पाना है।"