सिरसा। गुरमीत राम रहीम का एक के बाद एक नया राज खुलता जा रहा है और उसके नए तिलिस्म की जानकारी भी सार्वजनिक हो रही है। विष कन्याओं के राज खुलने के साथ साथ हरियाणा पुलिस ने डेरे की आईटी विंग के हेड और ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही पुलिस ने आईटी हेड की निशानदेही पर एक हार्ड डिस्क बरामद की है, जिसमें करीब 5000 सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंग हैं। ऐसे में पुलिस को इन सीसीटीवी फुटेज से डेरे के कई राज खुलने की उम्मीद है। यह हार्ड डिस्क टायलेट में छुपाकर रखी गयी थी।

बलवे का था आरोपी

बता दें कि हरियाणा पुलिस ने डेरे की आईटी विंग के हेड विनीत और ड्राइवर हरमेल सिंह को मंगलवार को फरीदाबाद से गिरफ्तार किया है। विनीत पर आरोप है कि उसी के इशारे पर सिरसा के मिल्क प्लांट और शाहपुर बेगू के बिजलीघर में आग लगायी थी, यहां तक की वह खुद भी आग लगाने वालों में शामिल था। ऐसे में विनीत के खिलाफ देशद्रोह और सरकारी कामकाज में बाधा डालने का मुकदमा दर्ज किया गया है।

संबंधित खबरें..

पत्नी से नहीं, हनीप्रीत से मिलने की बार-बार जिद कर रहा गुरमीत राम रहीम..जानें क्यों

नया खुलासा : ऐसे की जाती थी डेरे के भीतर हत्या और ऐसे होता था कुंवारी लड़कियों का रेप..!

18 नाबालिग ‘शाही बेटियों’ को पुलिस ने डेरा सच्चा सौदा से कराया मुक्त, हो रहा है मेडिकल

राम रहीम के बाद राधे मां पर सख्त हुआ हाईकोर्ट, एफआईआर दर्ज करने के आदेश

कौन बनती थी विष कन्याएं..

इस दल में वे महिलाएं शामिल होती थीं जो खुद जवानी के दिनों में बाबा की हवस का शिकार बन चुकी हैं। अधेड़ या बुजुर्ग होने पर राम रहीम इन महिलाओं की हर सुख सुविधा का ख्याल रखता था। यही नहीं, ये महिलाएं भी गुरमीत के कपड़ों, खान-पान से लेकर उसके लिए नई और सुंदर लड़कियों को गुफा तक भेजने का काम देखती थीं।

विष कन्याएं तैयार करती थीं सुंदर लड़कियां

ये विष कन्याएं हीं इस बात पर भी नजर रखती थीं कि डेरे की कोई भी लड़की राम रहीम के खिलाफ बात ना करे। जिसको ऐसा करते देख लिया जाता था उसको 24 घंटे तक बिना खाना-पानी के रखा जाता था। जो लड़कियां फिर भी नहीं मानती थीं उनको ‘मन सुधार कमरे’ में लेकर जाया जाता था। वहां उनको कुर्सियों से बांध दिया जाता था और पीटा जाता था। यह सजा कहना ना मानने वाले लड़कों को भी दी जाती थी। जो लड़के लड़कियों को घूरते हुए दिख जाते थे उनके चेहरे पर कालिख पोतकर गधे पर बैठा कर घुमाया भी जाता था।

संबंधित खबरें..

डॉक्टरों ने किया सनसनीखेज खुलासा : सेक्स एडिक्ट है राम रहीम, जेल में इसलिए बिगड़ी है तबीयत

राम रहीम: डेरा प्रमुख से जुड़ी बातें, जिन्हें शायद न जानते हों आप

बड़ा सवाल : खत्म हो जाएगा ‘माया-संसार’ या ये बचाएंगे ‘बाबा’ की विरासत..!

डेरा सच्चा सौदा में वैध-अवैध हथियारों का जखीरा, रायफल, रिवॉल्वर और AK-47 भी बरामद

साध्वियों के गर्भपात की भी जिम्मेदारी

राम रहीम को सजा दिलाने में गुरदास सिंह टूर नाम के शख्स का अहम रोल है। वह सीबीआई के गवाह थे। उन्होंने बताया कि उन विश कन्याओं पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। कुछ विश कन्याएं कथित तौर पर अभी डेरे में मौजूद ती हैं। उनमें से एक तो प्रेग्नेंट हो जाने वाली साध्वियों का गर्भपात करवाती थी। राम रहीम फिलहाल रोहतक जेल में बंद है। उसको बीस साल की सजा हुई है। उसे दो साध्वियों के बलात्कार का दोषी पाया गया था।

बाबा गुरमीत सिंह राम रहीम का काला चिट्ठा एक-एक कर खुल रहा है। किस तरह वो लड़कियों का शोषण करता था? कैसे उनसे धमकी देकर रेप किया जाता था? ये चार्जशीट में दर्ज है। लेकिन इस चार्जशीट में उन लड़कियों का भी जिक्र है, जो बाबा की खास शिष्याएं थीं और इनका काम था चुनी हुई साध्वियों को बाबा की गुफा में धकेलना। बाबा इन साध्वियों को कहता था विषकन्या।