नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने गोरखपुर में एक सरकारी अस्पताल में 30 बच्चों की मौत मामले की समयबद्ध जांच कराने जाने की जरुरत पर बल दिया और कहा कि यह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए  'परीक्षा की घड़ी' है।

भाजपा के सहयोगी लोजपा के प्रमुख पासवान ने इन मौतों को दुखद करार दिया और ध्यान दिलाया कि यह त्रासदी योगी आदित्यनाथ के चुनाव क्षेत्र में हुई है। बच्चों में से कई की मौत कथित तौर पर आक्सीजन की कमी के कारण हुई है।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा,  'मुझे भरोसा है कि वह इसे गंभीरता से लेंगे और इसे लिया भी जाना चाहिए। यह मुख्यमंत्री के लिए परीक्षा की घड़ी है।'  पासवान ने कहा कि उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए और एक सप्ताह के भीतर कार्रवाई होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि उप्र एवं कई अन्य राज्यों में सरकारी अस्पतालों की स्थिति काफी खराब है।