आजमगढ़ : जिले की पुलिस ने तरवां क्षेत्र के रासेपुर बाजार में चल रही अवैध शराब फैक्ट्ररी का पर्दाफाश कर इससे जुड़े चार लोगों को गिरफ्तार किया है। मौके से 53 ड्रम स्प्रिट, खाली बोतलें, नकली रैपर, होलोग्राम, ढ़क्कन, पैकिंग मशीन तथा बोलेरो वाहन बरामद किया है। बरामद शराब की अनुमानित कीमत डेढ़ करोड़ रूपए है।

थानाध्यक्ष मेंहनगर चंद्रभास्कर द्विवेदी के अनुसार कल तरवां क्षेत्र के रासेपुर बाजार के पास संचालित अवैध शराब फैक्टरी के बारे में जानकारी मिली। शराब कारोबारियों को पकड़ने के लिये पुलिस की संयुक्त टीम ने कल रासेपुर बाजार स्थित यूनियन बैंक शाखा के साथ स्थित एक मकान पर छापेमारी की। पुलिस ने इस अवैध कारोबार में लिप्त चार लोगों को मकान से गिरफ्तार किया।

मकान के हॉलनुमा कमरे में रखी 53 ड्रमों में भरी 11,660 लीटर स्प्रिट, लगभग 10 हजार नकली रैपर व होलोग्राम, पांच हजार खाली शीशी बोतलें व ढ़क्कन, दो पैकिंग मशीन तथा कारोबार में प्रयुक्त बोलेरो वाहन भी मौके से बरामद किया गया। सूचना पाकर एसपी अजय कुमार साहनी, एसपी सिटी, सीओ लालगंज तथा जिला आबकारी अधिकारी सुदर्शन सिंह अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। पकड़े गए आरोपियों में मकान मालिक व पूर्व प्रधान राजनाथ सिंह, विनय सिंह, दीप नारायण उर्फ दीपक तथा रामचंद्र शामिल हैं। पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी ने बताया कि बरामद शराब की खेप एक दिन पूर्व ही यहां आयी हुई थी। इन शराबों को सरकारी देशी शराब की दुकानों पर बेचा जा रहा था। जांच के लिए एसपी सिटी के नेतृत्व में एक टीम गठित कर दी गयी है।