कर्नूल: सत्ताधारी पार्टी के नेता अब कैमरे की नजर से बचने का हर संभव प्रयास कर रहे हैं। हाल के दिनों में TDP नेताओं के बयान पर जरा गौर करे तो लोग यह समझ जाएंगे तकि वे सत्ता के मद में किस तरह चूर है। हाल के दिनों में दिये गये बयानों पर जरा गौर करें:

नारा चन्द्रबाबू नायुडू: TDP द्वारा दिये गये पेंशन से मौज कर रहे हैं। सरकार द्वार दी जा रही राशन खा रहे है। ऐसी स्थिति में मुझे छोड़कर किसी और को कैसे वोट डालेंगे। यदि आप मुझे वोट डालना नही चाहते हैं तो ना ही राशन लेंऔर ना ही पेंशन लें।

TDP जिला अध्यक्ष सोमी शेट्टी: TDP को वोट डालने पर सभी आपराधिक मामले समाप्त कर दिये जाएंगे।

TDP के एक नेता: यदि आप एक बाप और एक मां की औलाद हो तो TDP को ही वोट डालें।

मंत्री नारा लोकेश: अरे तुम मेरी बात तो पहले सुनो।

केवल यह तो एक उदाहरण है।TDP की करतूत सुनकर किसी को भी हैरानी हो सकती है। अब ये सभी घटनाओं से संबंधित वीडियो को देखकर लोग भी परेशान है। हालात यह है कि पार्टी से से संबंधित कार्यक्रमों में वीडियग्राफरों को भी अनुमति नही दी जा रही है। कर्नूल में एक लोकल चैनल ने नंद्याल उपचुनाव को लेकर जब वीडियो निकालने का प्रयास किया तो उसे रोक दिया गया। इतना ही नही पार्टी से से संबंधित कार्यक्रमों के बारे में मीडिया को जानकारी नही दी जा रही है।