हैदराबाद: मायकेवाले बेटी का आने का इंतजार करते रहे, लेकिन आखिरकार उनहे बेटी की लाश लौटी। यह घटना शहर के गच्चीबौली थाना परिधि के सुदर्शन नगर में घटी। युवती के पिता नागेश्वर राव ने आरोप लगाया कि उसकी बेटी की हत्या की गयी है। उन्होने बताया कि उनकी बेटी पद्मजा बैंक ऑफ अमेरिका मे प्रबंधक के रुप में काम करती थी।


उसका विवाह सुदर्शन नगर के रहनेवाले साफ्टवेयर इंजीनीयर गिरीश नरसिम्हा के साथ हुआ। नागेश्वर राव ने बताया कि गिरीश नरसिम्हा अक्सर उनकी बेटी के साथ मार-पीट किया करता था। उनकी बेटी हर रविवार को मायके आया करती थी। कल शाम भी उन्होने बेटी को फोन किया। पद्मजा ने बताया कि वह कपड़े सुखा रही है और वह जल्द ही घर आयेगी। इस पर उन्होने कहा कि क्या उसे घर ले जाने के लिए आये, इस पर उसने मना कर दिया।


शाम चार बजे तक इंतजार करते रहे लेकिन उनकी बेटी घर नही आयी। इसी दौरान गिरीश नरसिम्हा ने फोन पर बताया कि उनकी बेटी पद्मजा की तबीयत अचानक खराब हो गयी है। नाक और मुंह से खून निकल रहा है। इससे वे घबराये बेटी के घर गये लेकिन गिरीश नरसिम्हा उसे लेकर अस्पताल चला गया था। जब वे अस्पताल पहुंचे तब बेटी को आईसीयू में रखा गया था।


थोडी देर बाद चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उन्होने आरोप लगाया कि उनके दामाद ने ही बेटी की हत्या की है। उसके चेहरे पर घाव के निशान पाये गये है। पद्मजा का पोस्टमार्टम किया जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा कि पद्मजा की हत्या की गयी या उसने आत्महत्या की है।