नई दिल्ली : देश की प्रमुख राजनीतिक दलों से बातचीत के बाद भाजपा ने राष्ट्रपति चुनाव की तैयारियां तेज़ कर दी हैं। भाजपा ने अपने सांसदों और कई राज्यों के विधायकों को अगले दो दिनों के लिए दिल्ली बुलाया है। इनसे अगले दो दिनों में नामांकन पत्रों पर दस्तख़त कराए जाएंगे ताकि समय से नामांकन पत्र दाखिल हो जाय और सबकी सहभागिता का संदेश जाए।


राष्ट्रपति पद के लिए कुल चार नामांकन पत्र दाखिल होंगे और हर नामांकन पत्र में 50 प्रस्तावक और 50 अनुमोदक होने चाहिए पर भाजपा ने 60 प्रस्तावक व 60 अनुमोदकों को बुलावा भेजा है। इस प्रकार चारों नामांकन पत्र में कुल 480 सांसद, विधायक हस्ताक्षर करेंगे।

संबंधित खबर..

राष्ट्रपति चुनाव : भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में तय होगा भाजपा का उम्मीदवार, घोषणा की भी संभावना

यह भी जानकारी मिल रही है कि पहले प्रस्ताव में पहला नाम पीएम मोदी का होगा, जबकि दूसरे प्रस्ताव में पहला नाम बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का नाम होगा। वहीं तीसरे और चौथे प्रस्ताव में पहला नाम एनडीए सहयोगी प्रकाश सिंह बादल और चंद्र बाबू नायडू का होगाष इसके बाद नामांकन पत्रों पर केंद्रीय मंत्री, सांसद और विधायक दस्तखत करेंगे।

संबंधित खबरें..

राष्ट्रपति के नाम पर सोनिया का जवाब सुनकर राजनाथ-नायडू बोले : दोबारा मांगेंगे समर्थन

सुषमा स्वराज ने कहा : मैं विदेश मंत्री और राष्ट्रपति पद के चुनाव में उम्मीदवारी ‘अफवाह’

केवल राष्ट्रपति भवन ही नहीं और भी हैं लापरवाह, नोटिस भेज NDMC लेता है वाहवाही

अब तक मिली जानकारी के अनुसार, 19 या 20 जून को नामांकन पत्र पर दस्तख़त कराए जा सकते हैं। इसी के मद्देनजर इन नेताओं को दिल्ली तलब किया गया है।


आज अगर संसदीय बोर्ड की बैठक में उम्मीदवार का नाम फाइनल नहीं होता है तो सबसे 'ब्लैंक फार्म' पर हस्ताक्षर करा लिए जाएंगे और नाम घोषणा के बाद उम्मीदवार का नाम भरकर नामांकन दाखिल किया जाएगा।

इसे भी जरूर पढ़ें..

आडवाणी को राष्ट्रपति की दौड़ से बाहर देख विपक्ष हो रहा एकजुट, सोनिया को भरोसा मिलेगी जीत..!

जानिए..कौन कौन हैं राष्ट्रपति पद के दावेदार, शुरू हो गई आधे दर्जन नामों पर चर्चा

सोनिया गांधी ने बताई राष्ट्रपति के लिए अपनी पसंद, ऐसे हों देश अगले राष्ट्रपति व उपराष्ट्रपति

यह नामांकन 23 जून तक हर हाल में दाखिल हो जाएगा, क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी की 24 जून से विदेश यात्रा शुरू हो रही है और प्रधानमंत्री खुद उम्मीदवार के नामांकन के समय मौके पर रहना चाहते हैं।