नई दिल्ली। दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री और आम आदमी पार्टी के नेता सत्येंद्र जैन के घर पर CBI ने छापा मारा है। कुछ दिन पहले जांच एजेंसी ने उनके दफ्तर पर छापेमारी की थी। बताया जा रहा है कि जांच एजेंसी का यह छापा सत्येंद्र जैन पर दर्ज हुए ताजा मामले को लेकर है। इसमें मंत्री पर गलत तरीके से लोक निर्माण विभाग (PWD) में 18 विशेषज्ञों की नियुक्त का आरोप है। आरोप है कि स्वास्थ्य मंत्री ने पीडब्ल्यूडी में विशेषज्ञ होते हुए भी 18 लोगों की निजी तौर पर नियुक्ति की है।

वहीं इस मसले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आम आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि सत्येंद्र जैन के घर पहुंचकर सीबीआई जिस तरह की चार्जशीट गढ़ रही है, उसके सभी पात्र काल्पनिक हैं। आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने कहा कि इस कहानी में संजय और सुरेश दो पात्र हैं, यही लोग कोलकाता के हवाला कारोबारियों के संग हैं। ये दोनों आदमी प्लांट किए गए हैं। सत्येंद्र जैन इन दोनों को सामने लाने की बात कह रहे हैं, लेकिन अभी तक इनका पता नहीं है। जिस नम्बर के जरिए हवाला के लेनदेन की बात हो रही है, वह 2014 से बंद है और इसमें एसटीडी की सुविधा नहीं है।

उधर, सीबीआई ने कहा है कि यह छापामारी नहीं, बल्कि पूछताछ की रूटीन कार्रवाई है। इससे पहले जांच एजेंसी सत्येंद्र जैन से भी इस मामले में पूछताछ कर चुकी है