नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी संसदीय बोर्ड की बैठक में अगले राष्ट्रपति के रुप में बिहार के मौजूदा राज्यपाल रामनाथ कोविंद को एनडीए के दलित चेहरे के तौर पर तय किया है।

इसके पहले आज दोपहर 12 बजे भारतीय जनता पार्टी संसदीय बोर्ड की बैठक हुई और उसमें पार्टी के सदस्यों ने अमित शाह व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को कैंडीडेट चुनने के लिए अधिकृत किया गया। थोड़ी देर के मंथन के बाद अमित शाह ने प्रेस कांफ्रेंस करके प्रत्याशी की घोषणा की।

ये हैं रामनाथ कोविंद

बिहार के वर्तमान राज्यपाल रामनाथ कोविंद देश के अगले राष्ट्रपति के रुप में एनडीए के उम्मीदवार के रुप में नामांकन करेंगे। भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने इन्हें पार्टी का दलित चेहरा व जमीन से जुड़ा राजनेता बताते हुए उम्मीद जताई की हर दल के लोग इनके नाम पर सहमति जताएंगे।

एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बने कोविंद मूल रूप से कानपुर देहात के रहने वाले हैं। रामनाथ कोविंद दलित समाज में कोरी बिरादगी से आते हैं। कोविंद बिहार के राज्यपाल बनने से पहले 12 वर्षों तक उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सांसद भी रहे। इसके अलावा कोविंद भाजपा के कई पदों पर भी रहे हैं।

इसके पहले ही माना जा रहा था कि इस बैठक में राष्ट्रपति कैंडिडेट के सभी नामों पर चर्चा करने के बाद किसी एक के नाम पर फाइनल मुहर लगा दी जाएगी। भाजपा के द्वारा गठित कमेटी ने लगभग सभी बड़े राजनीतिक दलों की रायशुमारी के बाद हो रही बैठक में कमेटी विरोधी दलों के साथ साथ सत्ता में सहयोगी दलों का फीडबैक भी रखा।


पार्टी सूत्रों के मुताबिक पार्टी में इस बात को लेकर रजामंदी बनी है कि किसी सक्रिय राजनीतिक हस्ती को ही देश के इस सर्वोच्च पद पर काबिज होना चाहिए। अब संसदीय बोर्ड संभावित नामों पर विचार करने और केवल नाम की घोषणा करने की औपचारिकता बाकी है।


ये भी थे दावेदार

भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी के साथ साथ संघ प्रमुख मोहन भागवत का नाम इस पद के लिए जोरशोर से आया था पर मोहन भागवत ने इस तरह की किसी संभावना से मना कर दिया था। वहीं महिला दावेदारों में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के साथ साथ झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू के नाम पर भी राजनीतिक गलियारों में हलचल है। इसके अलावा थावर चंद गहलोत का भी नाम उछाला गया है, जिन्हें संभवत: उपराष्ट्रपति भी बनाया जा सकता है।

संबंधित खबरें..

राष्ट्रपति के नाम पर सोनिया का जवाब सुनकर राजनाथ-नायडू बोले : दोबारा मांगेंगे समर्थन

सुषमा स्वराज ने कहा : मैं विदेश मंत्री और राष्ट्रपति पद के चुनाव में उम्मीदवारी ‘अफवाह’

केवल राष्ट्रपति भवन ही नहीं और भी हैं लापरवाह, नोटिस भेज NDMC लेता है वाहवाही


वहीं, शिवसेना ने भी पहले मोहन भागवत व बाद में एमएस स्वामीनाथन का नाम लेकर भाजपा को एक और आप्शन दे दिया है। वहीं देश के मेट्रोमैन श्रीधरन का नाम भी संभावितों की दौड़ में शामिल किया जा रहा और माना जा रहा है कि एम एस स्वामीनाथन या श्रीधरन के नाम पर विरोधी दल भी राजी हो सकते हैं।


इससे पहले केंद्रीय शहरी और विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा था कि एनडीए के राष्ट्रपति कैंडिडेट का ऐलान 23 जून से पहले कर दिया जाएगा।


इसे भी जरूर पढ़ें..

आडवाणी को राष्ट्रपति की दौड़ से बाहर देख विपक्ष हो रहा एकजुट, सोनिया को भरोसा मिलेगी जीत..!

जानिए..कौन कौन हैं राष्ट्रपति पद के दावेदार, शुरू हो गई आधे दर्जन नामों पर चर्चा

सोनिया गांधी ने बताई राष्ट्रपति के लिए अपनी पसंद, ऐसे हों देश अगले राष्ट्रपति व उपराष्ट्रपति


राष्ट्रपति कैंडिडेट को लेकर एनडीए सहयोगियों और विपक्षी पार्टियों से मिल रहे बीजेपी नेताओं ने राय-मशविरे का दौर पूरा कर लिया है। अब संसदीय बोर्ड संभावित नामों पर विचार करेगा और अगले कुछ दिन में फैसले का ऐलान कर दिया जाएगा।


कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 जून को विदेश यात्रा पर जा रहे हैं और वे विदेश रवाना होने से पहले राष्ट्रपति का नामांकन करवाना चाह रहे हैं।