बेगूसराय: बिहार के बेगूसराय में बेहद शर्मनाक घटना सामने आई है। यहां स्कूल की फीस नहीं देने पर दो छात्राओं के कपड़े उतरवाए गए। उसके बाद निर्वस्त्र ही दोनों बच्चियों को स्कूल से घर भेज दिया गया।

बिना कपड़े के घर जाते देख इन बच्चियों की साथी छात्रों ने मदद की और तन ढकने के लिए कपड़े मुहैया करवाए। ये मामला कौआकोल के बीआर एजुकेशन एकेडमी का बताया जाता है। परिजनों को जब बच्चों के हाल का पता चला तो उन्होंने थाने में गुहार लगाई। मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने स्कूल के डायरेक्टर और प्रिंसिपल को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही विभिन्न धाराओं के तहत उनके खिलाफ मामला भी दर्ज कर लिया है।

कौआकोल गांव के स्थानीय लोग
कौआकोल गांव के स्थानीय लोग

यूकेजी और पहली कक्षा में पढ़ने वाली इन मासूम बच्चियों के दिलो दिमाग पर इस घटना का काफी बुरा असर हुआ है। लालची स्कूल वाले गरीब परिजनों से लगातार फीस देने के लिए दबाव बना रहे थे। गरीब माता पिता फीस तो नहीं दे सके। गुस्ताखी ये की कि बिना फीस दिए ही बच्चियों को स्कूल भेज दिया। जिसका खामियाजा इन बच्चियों को ही भुगतना पड़ा।

वहीं स्कूल के डायरेक्टर और प्रिंसिपल खुद को निर्दोष बता रहे हैं। साथ ही किसी साजिश की ओर इशारा कर रहे हैं। मामले में पुलिस तफ्तीश कर रही है। इस घटना को लेकर स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश है।