खगड़िया: हैवानियत की चरम सीमा क्या हो सकती है, इसका अंदाजा आप इस घटना से लगा सकते हैं। बिहार के परबत्ता थाना इलाके में एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका को रात में घर बुलाकर उसके साथ बलात्कार किया। फिर सुबह उस पर किरासन तेल छिड़कर कर जिंदा जला दिया।

बुरी तरह जली अवस्था में लड़की को परिजनों ने स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टर उसे बचा नहीं सके। आरोपी भवानी शंकर ने लड़की को शादी का झांसा देकर कुछ कागज लेने के बहाने घर बुलाया। फिर दरिंदे ने पीड़िता के लाख मना करने पर उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया। आरोपी का वहशीपन सिर चढ़कर बोल रहा था। इतने पर भी उसका मन नहीं भरा तो अगले दिन सुबह वो लड़की के घर पहुंच गया। फिर खाना बना रही पीड़िता के ऊपर किरासन का तेल डालकर उसे आग लगा दी।

95 फीसदी जल चुकी पीड़िता की जान नहीं बचाई जा सकी। हालांकि मौत से पहले पुलिस ने पीड़िता का बयान दर्ज कर लिया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी खुद अस्पताल पहुंचकर पीड़िता और परिजनों से घटना के बारे में जानकारी ली।

हालांकि आरोपी की दबंगई के चलते परिजन घटना को छिपाने की कोशिश करते देखे गए। पीड़िता के भाई ने बताया कि खाना बनाने के दौरान उसकी बहन जल गई। जबकि इसके उलट पीड़िता ने पुलिस को सच्चाई बयां की है, जिसे कलमबंद कर लिया गया है। पुलिस अधीक्षक के मुताबिक रेप और हत्या के इस मामले की खुद पीड़िता ने मरने से पहले तस्दीक की है। अब परिवार वाले लाख कोई और कहानी सुनाएं, लड़की के बयान को ही तरजीह दी जाएगी। अब तक आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर बताया जाता है।