सीकर : जिले के दो अलग अलग थाना क्षेत्रों में दो ट्रेन हादसों में पांच मजदूरों की मौत हो गई, जबकि एक अन्य घायल हो गया।

फतेहपुर सदर थाना क्षेत्र में आज सुबह रेल की पटिरयों पर सो रहे चार मजदूरों में से तीन मजदूरों की ट्रायल कर रहे इंजन से कटकर मौत हो गई, जबकि एक अन्य घायल हो गया।

पुलिस जांच अधिकारी रामकृष्ण ने बताया कि हरसावा रेलवे स्टेशन के पास रेलवे अंडरपास का काम करने वाले चार मजदूर बंद रेलवे ट्रैक पर पटिरयों पर सो रहे थे। अचानक ट्रैक पर ट्रायल इंजन आ गया जिससे कोटपुतली निवासी मनीष बलाई (20), दिनेश बलाई (19), और अलवर निवासी इंद्राज बलाई (25) की कट कर मौत हो गई, जबकि योगेश बलाई (21) घायल हो गया।

उन्होंने बताया कि घायल मजदूर को सीकर रैफर किया गया है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिये गये हैं। इस संबंध में सीआपीसी की धारा 174 के तहत मर्ग कायम किया गया है। नीम का थाना सदर में कल रात एक अन्य ट्रेन हादसे में दो मजदूरों की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई।

ये भी पढ़े :

पीडब्ल्यूडी में भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच होगी : केजरीवाल

आईएएस अधिकारी की हत्या की जांच के लिए लखनऊ पहुंची CBI की टीम

तेदेपा सांसद पर घरेलू एयरलाइंस का प्रतिबंध, विदेश में मना रहे छुट्टियां

पुलिस जांच अधिकारी भीमसिंह ने बताया कि मावंडा रेलवे स्टेशन के पास बालाजी फाटक पर रेलवे ट्रेक पर बैठे हरियाणा के बहादुरगढ तहसील निवासी अर्जुन लाल जाट (40), राधेश्याम बलाई (42) की दिल्ली-उदयपुर चेतक एक्सप्रेस की चपेट में आने से मौत हो गई।

उन्होंने बताया कि ठेकेदार के अधीन काम करने वाले मजदूर ट्रेक पर बैठे थे। अचानक ट्रेक पर ट्रेन आ जाने से दोनों उसकी चपेट में आ गए और उनकी मौत हो गई। सुबह रेलवे के गैंगमैन की सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिये अस्पताल की मोर्चरी रखवाया है। परिजनों को सूचित कर दिया गया है, उनके यहां पहुंचने पर पोस्टमार्टम करवाया जायेगा। उन्होंने बताया कि रेलवे ट्रेक के पास एल्कोहल की खाली बोतल और नमकीन की थैली बरामद की गई है। इस संबंध में सीआपीसी की धारा 174 के तहत मर्ग कायम किया गया है।