हैदराबाद: ब्यूटीशियन शिरीषा की मौत राज आखिरकार खुल गया। पुलिस ने बताया कि शिरीषा की हत्या नही बल्कि आत्महताया की थी। इस घटना के बाद पुलिस ने राजीव और श्रवण से कड़ाई से पूछताछ की। नगर पुलिस आयुक्त महेन्द्र रेड्डी ने बताया कि शिरीषा,श्रवण और एसआई प्रभाकर रेड्डी राजीव ने उस रात शराब पी।शराब पीने के बाद राजीव और श्रवण सिगरेट पीने के लिए कमरे से बाहर निकले।

इसी दौरान कमरे के भीतर मौजूद एसआई प्रभाकर रेड्डी ने शिरीषा के साथ गलत हरकत करने लगा। शिरीषा के चीखने के बाद राजीव और श्रवण कमरे के भीतर झांका। दोनों ने देखा कि प्रभाकर रेड्डी नशे की हालत में शिरीषा के साथ गलत हरकत कर रहा है।

इससे इन दोनों ने प्रभाकर रेड्डी को कमरे से बाहर निकालने के बाद शिरीषा की जमकर पिटाई करने के साथ- साथ उसे बाल पकड़कर घसीटते हुए कार में बैठा दिया। एसआई प्रभाकर रेड्डी ने राजीव और श्रवण से कहा कि वे जल्दी शिरीषा को वहां से ले जाए। इस पूरे घटना क्रम के दौरान शिरीषा गंभीर रूप से घायल हो गयी।

इस घटना के बाद शिरीषा ने जहां क्षुभ्ध होकर आत्महत्या कर ली वहीं इस घटना के खुलासा होने के डर से एआई ने अपने आप को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने इस मामले को लेकर श्रवण और राजीव को हिरासत में ले लिया है।