वाशिंगटन : अमेरिका ने पाकिस्तान की सूफी दरगाह पर हुए आतंकी हमले की निंदा करते हुए कहा है कि वह आतंकवाद से मुकाबला करने के लिए पाकिस्तान के साथ मिलकर काम करता रहेगा। इस हमले में मरने वालों की संख्या 70 के ऊपर पहुंच गई। कुछ अन्य समाचार एजेंसियों के मुताबिक मृतकों की संख्या 100 ऊपर है।

विदेश मंत्रालय के कार्यवाहक प्रवक्ता मार्क टोनर ने कहा, ‘‘हम आतंकवाद के खिलाफ लडाई मेें पाकिस्तान के लोगों के साथ खडे हैं और दक्षिण एशिया क्षेत्र की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं।'' उन्होंने कहा, ‘‘हम पाकिस्तान की सरकार और इस क्षेत्र में हमारे सहयोगियों के साथ मिलकर आतंकवाद के खतरे का मुकाबला करते रहेंगे।'' पाकिस्तान के सहवान कब्जे की सूफी लाल शाहबाज कलंदर दरगाह में इस्लामिक स्टेट के एक आत्मघाती हमलवार ने कल खुद को उडा लिया।

ये भी पढ़ें:

पाकिस्तान में सूफी दरगाह पर विस्फोट, 30 लोगों की मौत और 100 घायल

पाकिस्तान में आत्मघाती हमला, 6 की मौत

इसी बीच एक अलग बयान में विश्व बैंक के अध्यक्ष जिंग यंग किम ने इराक और पाकिस्तान में हुए आतंकवादी हमले पर दुख प्रकट किया है।

उन्होंने कहा, ‘‘विश्व बैंक समूह की ओर से मैं इराक और पाकिस्तान पर हुए इस बेतुके हमले पर दुख और खेद प्रकट करता हूं।'' इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है।