हैदराबाद: YSRCP विधायक रोजा को महिला संसद में शिरकत करने से रोकने वाली बाबू सरकार की पुलिस और उनके नेताओं के खिलाफ महिला अत्याचार की फेहरिस्त काफी लंबी है। हम यहां आपको सिलसिलेवार बताते हैं कि कब कब और कहां कहां टीडीपी नेताओं और बाबू सरकार के इशारे पर महिलाओं पर जुल्म किए गए।

1. वाकया 08 जुलाई 2015 का है, रेती माफिया TDP विधायक चिंतमनेनि प्रभाकर और उसके गुर्गों ने महिला तहसीलदार वनजाक्षी पर हमला किया। घटना कृष्णा जिला मुसुनुरू मंडल रंगमपेट की है। महिला तहसीलदार ने जब टीडीपी नेता के काले कारनामों का विरोध किया, तो उसे बूरी तरह मारा पीटा गया।

यह भी पढ़ें:

आंध्र प्रदेश : टीडीपी नेता ने महिला की सरेआम पिटाई की, वीडियो वायरल

2. नागार्जुना विश्वविद्यालय में रिशितेश्वरी नाम की 18 साल की छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना 14 जुलाई 2015 की है। मृतक छात्रा ने अपने सुसाइड नोट में रैगिंग का आरोप लगाया था। साथ ही कॉलेज प्रबंधन पर गंभीर सवाल खड़े किए थे।

3. विजयवाड़ा में सत्ताधारी पार्टी के नेता के सहयोग से सेक्स रैकेट चलाए जाने का खुलासा हुआ था। ये खुलासा YSRCP नेताओं ने किया था। सनसनीखेज जानकारी के मुताबिक टीडीपी नेताओं ने करीब 200 महिलाओं के अश्लील वीडियो निकाले थे। बाद में उन्हें ब्लैकमेल भी किया गया था। ये घटना दिसंबर 2015 की है।

4. जुलाई 2015 को सीएम चंद्रबाबू नायडू के गृह जिले चित्तूर में तहसीलदार नारायणम्मा पर हमला और मारपीट किया गया। टीडीपी सरपंच रमनारेड्डी और उसके साथी ने मिलकर महिला तहसीलदार को लातों और घूसों से पीटा। जिसका वीडियो वायरल हुआ और लोगों ने देखा कि किस तरह बाबू सरकार के गुर्गे महिलाओं पर अत्याचार करते हैं।

5. 17 अगस्त 2015 को कडपा जिले के नारायण महाविद्यालय में दो छात्राओं ने आत्महत्या कर ली। नंदिनी और मनीषा दोनों प्रथम वर्ष की इंटर छात्राएं थी। कॉलेज प्रबंधन पर ही हत्या का आरोप लगा।

6. नवंबर 2016 को पश्चिमी गोदावरी जिला, तुंदुरू में गोदावरी एक्वा फूड पार्क से हो रहे प्रदूषण पर सत्यवती नाम की महिला ने आवाज उठाई। तो उसके खिलाफ सरकार ने हत्या का मामला दर्ज करवा दिया।

7. 29 नवंबर 2016 को टीडीपी विधायक माधव नायुडू के सामने ही टीडीपी कार्यकर्ताओं ने महिलाओं पर हमला किया। जिसमें कई महिलाएं बुरी तरह घायल हुईं।

8. 31 दिसंबर 2016 को टीडीपी के सरकारी सचेतक चिंतमनेनी ने एलुरु में गाली गलौज करते हुए महिलाओं से मारपीट की।

9. 18 दिसंबर 2015 को विजयवाड़ा में आंदोलन के दौरान आंगनवाड़ी महिलाओं पर जमकर लाठीचार्ज किया गया। जिसमें करीब चार हजार महिलाओं को चोटें आई थीं।

10. 25 अगस्त 2015 को दिल्ली में चंद्रबाबू नायडू ने लिंगभेद टिप्पणी की थी। उन्होंने बयान में कहा था कि बहू अगर लड़के को जन्म देती है तो सास खुश होती है। आगे बाबू ने कहा कि विशेष दर्जा प्रदेश के लिए अमृत नहीं है, साथ ही उन्होंने स्पेशल पैकेज की वकालत की थी।

11. नवंबर 2014 को विधानसभाध्यक्ष ने हैदराबाद से विजयवाड़ा जाते हुए विमान में एयर होस्टेस के साथ अभद्र बर्ताव किया था।

12. 22 मई 2016 को विशाखा जिला गाजूवाका मंडल में पति के साथ देवी माता के दर्शन के लिए गई महिला के साथ टीडीपी के नेताओं ने दुराचार किया और उसकी हत्या कर दी। बाद में लाखों रुपए ले-देकर सरकार ने केस को रफा दफा करवा दिया।

13. 18 दिसंबर 2015 को बॉक्साईट खुदाई मामले पर चंद्रबाबू नायडू के खिलाफ बोलने पर YSRCP महिला विधायक गिड्डी ईश्वरी के खिलाफ देश द्रोह का मामला दर्ज करवा दिया गया।

14. 20 अक्तूबर 2016 को गुंटूर जिला माचेर्ला म्यूनिसिपल के पूर्व चेयरपर्सन श्रीदेवी ने टीडीपी नेताओं से तंग आकर आत्महत्या कर ली।

15. मार्च 2016 को हिंदुपुर से टीडीपी विधायक और अभिनेता बालाकृष्णन ने सावित्री सिनेमा ऑडियो वीडियो फन्क्शन के दौरान महिलाओं के प्रति अभद्र भाषा का प्रयोग किया।

16. नवंबर 2016 को गुंटूर जीजीएच गायनाकोलोजी पीजी छात्रा संध्या रानी ने आत्महत्या कर ली। मामले में आरोपी प्रोफेसर लक्ष्मी को गिरफ्तार किये बिना सरकार लक्ष्मी का साथ देती रही।

17. 20 जनवरी 2017 को पश्चिमी गोदावरी जिले में पालकोल्लू नर्सापुरम इलाके में स्कूटर पर जा रही गौतमी को टीडीपी स्थानीय नेता बुज्जी और उसकी पत्नी श्रीसा और कार चालक ने टक्कर मार दी। जिससे मौत हो गई। बताया जाता है कि टक्कर जानबूझकर मारी गई, साथ ही बाद में इस मामले को दुर्घटना दिखा दिया गया।