वाशिंगटन : अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने मंगलवार को ईरान परमाणु समझौैते को रद्द करने के खिलाफ ट्रंप के नेतृत्व वाले आगामी प्रशासन को चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि इस तरह के कदम से संघर्ष की स्थिति पैदा हो सकती है और अमेरिका की साख को नुकसान पहुंच सकता है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, केरी ने वाशिंगटन में स्थित 'यूएस इंस्टीट्यूट ऑफ पीस' में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि साल 2015 में ईरान परमाणु करार के लागू होने के बाद ईरान का परमाणु हथियार के निर्माण का मार्ग बंद हो गया है।

केरी ने कहा, "अब, अगर इस करार को मनमाने ढंग से रद्द कर दिया गया, तो तत्काल ही फिर से संघर्ष की स्थिति पैदा हो जाएगी।"

उन्होंने कहा, "इससे विश्व में हमारी साख को नुकसान पहुंचेगा, क्योंकि मुझे संदेह है कि रूस, चीन, फ्रांस, जर्मनी और ब्रिटेन करार को कायम रखेंगे।"

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले वर्ष अपने चुनाव अभियान के दौरान ईरान परमाणु करार की निरंतर आलोचना की थी। उन्होंने इसे 'सबसे बुरा समझौता' करार दिया था।

--आईएएनएस