पुणे : छत्तीसगढ़ के रहने वाले प्रबंधन के एक 22 वर्षीय छात्र ने अपने पालतू कुत्ते की मौत से दुखी होकर आत्महत्या कर ली। पुलिस अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

यह घटना सोमवार रात 8.30 बजे की है, जब कंवर हर्षवर्धन राघव ने हडाप्सर के रक्षानगर इलाके में स्थित ठक्कर एन्क्लेव में छठी मंजिल पर अपने एक रिश्तेदार के घर से कूदकर आत्महत्या कर ली।

कंक्रीट के फर्श पर गिरे राघव के शरीर से काफी खून बह रहा था। स्थानीय निवासियों ने उसे पास के अस्पताल में भर्ती कराया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

सेना के अधिकारियों के परिवार से ताल्लुक रखने वाले राघव की डायरी से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ। इस नोट में उसने लिखा है कि अपने पालतू कुत्ते सिस्का के आठ माह पहले गुजर जाने के कारण वह बेहद दुखी था।

राघव पिछले कुछ साल से पुणे में रह रहा था और सिंबायोसिस ग्रुप ऑफ कॉलेज में प्रबंधन का पहले वर्ष का छात्र था।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी विष्णु पवार का कहना है कि अपने सुसाइड नोट में राघव ने अपने अभिभावकों से आत्महत्या के लिए माफी मांगी है। इसमें राघव ने कहा है कि उसकी आत्महत्या के लिए कोई भी जिम्मेदार नहीं है।

इस सुसाइड नोट में राघव ने यह भी बताया कि वह किस प्रकार आठ माह पहले मरे अपने पालतू कुत्ते की मौत से दुखी था। वह इस दर्द को सह नहीं पा रहा था और इसीलिए उसने आत्महत्या करने का फैसला किया।

राघव के शव को मंगलवार को उसके परिजनों को सौंप दिया गया और उसी दिन शाम को उसका अंतिम संस्कार किया गया।