एलुरु: केंद्रीय जलसंसाधन मंत्री नितिन गडकरी बुधवार को दोपहर पश्चिम गोदावरी जिले में पोलावरम का दौरा किया। केंद्र में एनडीए के नेतृत्व में बनी सरकार से टीडीपी के गठबंधन तोड़ने के बाद केंद्रीय मंत्री का पोलावरम का पहला दौरा है। केंद्रीय मंत्री के इस दौरे को उत्कंठा से देखा जा रहा है। दोपहर 3 से शाम 5 बजे के दौरान नितिन गड़करी आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री नारा चंद्रबाबू नायडू से मुलाकात करेंगे। उनके साथ मिलकर पोलावरम परियोजना के कार्यों का निरीक्षण किया।

एनडीए से टीडीपी के गठबंधन तोड़ने के बाद टीडीपी और भाजपा के बीच वाक्युद्ध जारी रहा। टीडीपी ने भाजपा पर आरोप लगाया है पोलावरम परियोजना के निर्माण कार्य को लेकर भाजपा टीडीपी को सहयोग नहीं दे रही है। टीडीपी नेताओं के बयान पर भाजपा उन्हें काउंटर दे रही है। भाजपा के नेता बता रहे हैं कि पोलावरम परियोजना को लेकर केंद्र ने बकाया नहीं रखा है।

इसे भी पढ़ें :

गडकरी का 22 दिसंबर को पोलवरम दौरा, वर्ष 2018 में परियोजना को पूरा करने का लक्ष्य

पोलावरम परियोजना के निर्माण कार्यों में हुई धांधलियों और अनियमितता को लेकर जांच करवाने की मांग भाजपा के नेता कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि पीपीए की बगैर अनुमति के नामिनेशन के नाम पर पोलावरम का कार्य किया गया। इस क्रम में भाजपा खेमे में चर्चा हो रही है कि गड़करी के दौरे के दौरान पोलावरम से जुड़ी धांधिलयां उजागर होंगी।