नई दिल्ली : भारत और भूटान के रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए भूटान के प्रधानमंत्री दासो शेरिंग तोबगे पांच जुलाई को भारत की आधिकारिक यात्रा पर आ रहे हैं, जहां वे भारतीय शीर्ष नेतृत्व के साथ द्विपक्षीय संबंधों एवं साझा हितों से जुड़े विविध विषयों पर व्यापक चर्चा करेंगे।

विदेश मंत्रालय से जारी एक बयान के अनुसार, भूटान के प्रधानमंत्री 5 से 7 जुलाई तक भारत की यात्रा पर रहेंगे। वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निमंत्रण पर भारत आ रहे हैं। अपनी यात्रा के दौरान तोबगे, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। भूटान के प्रधानमंत्री से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज एवं अन्य मंत्री भी भेंट करेंगे।

यह भी पढ़ें :

मुलायम बोले- भारत का सबसे बड़ा दुश्मन चीन

डोकालाम गतिरोध के बीच सुषमा ने भूटान के विदेश मंत्री से मुलाकात की

विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि भारत और भूटान के बीच मित्रता और सहयोग के अनूठे संबंध हैं, जो आपसी विश्वास और समझ पर आधारित हैं। इस वर्ष दोनों देश अपने औपचारिक राजनयिक संबंध स्थापित होने की स्वर्ण जयंती मना रहे हैं।

इसमें कहा गया है कि प्रधानमंत्री तोबगे की आसन्न भारत यात्रा दोनों पक्षों को आपसी हितों से जुड़े विषयों पर चर्चा करने और दोनों देशों के लोगों के लाभ के लिये अपने संबंधों को और प्रगाढ़ बनाने का अवसर प्रदान करते हैं।