मुंबई: जुलाई के डेरिवेटिव अनुबंधों की बेहतर शुरुआत तथा रुपये की स्थिति सुधरने से बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स आज 386 अंक की छलांग लगा गया। इससे पिछले दो सत्रों में सेंसेक्स ट्रटा था। इस साल 31 मई के बाद यह एक दिन में सेंसेक्स की सबसे बड़ी बढ़त है। उस दिन सेंसेक्स 416.27 अंक चढ़ा था। वैश्विक बाजारों में भी आज तेजी रही।

हालांकि, व्यापार तथा कच्चे तेल को लेकर आशंका कायम है। गुरुवार को रुपया अपने सर्वकालिक निचले स्तर पर पहुंचा था। आज इसमें सुधार हुआ जिससे निवेशकों की धारणा बेहतर हुई। बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 35,128.16 अंक पर मजबूती के साथ खुला और लगातार सकारात्मक दायरे में बना रहा। कारोबार के दौरान इसने दिन का उच्चस्तर 35,459.05 अंक भी छुआ। अंत में सेंसेक्स 385.84 अंक या 1.10 प्रतिशत के लाभ से 35,423.48 अंक पर बंद हुआ।

इससे पिछले दो सत्रों में सेंसेक्स 452.40 अंक टूटा था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 125.20 अंक या 1.18 प्रतिशत के लाभ से 10,714.30 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 10,723.05 से 10,612.35 अंक के दायरे में रहा। हालांकि, सेंसेक्स और निफ्टी दोनों में साप्ताहिक आधार पर नुकसान रहा। इससे पिछले पांच सप्ताहों में ये लाभ में रहे थे। साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 266.12 अंक या 0.75 प्रतिशत तथा निफ्टी 107.55 अंक या 0.99 प्रतिशत नीचे आया।

इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार घरेलू संस्थागत निवेशकों ने कल शुद्ध रूप से 442.64 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। वहीं विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 951.51 करोड़ रुपये की बिकवाली की। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, "कल के नुकसान के बाद रुपये की सकारात्मक दिखा से बाजार में आज सुधार हुआ। वैश्विक बाजारों से भी यहां धारणा को बल मिला।'' नायर ने कहा कि बाजार की दिशा के लिए कच्चा तेल महत्वपूर्ण है। इसके अलावा भागीदारों की निगाह मुद्रास्फीति तथा राजकोषीय स्थिति पर भी है। सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा स्टील का शेयर सबसे अधिक 3.61 प्रतिशत चढ़ा। यस बैंक में 3.16 प्रतिशत का लाभ रहा।

अन्य कंपनियों में रिलायंस इंडस्ट्रीज , एलएंडटी , अडाणी पोर्ट्स , ओएनजीसी , वेदांता , बजाज आटो , हिंदुस्तान यूनिलीवर , आईटीसी , एनटीपीसी , टाटा मोटर्स , आईसीआईसीआई बैंक , एचडीएफसी लि ., कोल इंडिया , पावर ग्रिड , इन्फोसिस , विप्रो , भारती एयरटेल , एक्सिस बैंक , एसबीआई , मारुति सुजुकी और कोटक बैंक 2.99 प्रतिशत तक चढ़ गए। वहीं दूसरी ओर इंडसइंड बैंक का शेयर 1.45 प्रतिशत टूटा। हीरो मोटोकार्प में 1.19 प्रतिशत , एचडीएफसी बैंक में 1.17 प्रतिशत , एमएंडएम में 1.15 प्रतिशत , सनफार्मा में 0.83 प्रतिशत और एशियन पेंट्स में 0.35 प्रतिशत का नुकसान रहा। बीएसई स्मालकैप 1.92 प्रतिशत तथा मिडकैप 1.81 प्रतिशत चढ़ा।

अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क ब्रेंट कच्चा तेल 1.40 प्रतिशत चढ़कर 78.94 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। एशियाई बाजारों में शंघाई कम्पोजिट 2.17 प्रतिशत , हांगकांग का हैंगसेंट 1.61 प्रतिशत तथा जापान का निक्की 0.15 प्रतिशत लाभ में रहा। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार भी लाभ में चल रहे थे।