लंदन : क्या आप उच्च रक्तचाप से पीड़ित हैं? तो 30 मिनट के लिए सॉना स्नान (वाष्प स्नान) ले लें, क्योंकि यह रक्तचाप के स्तर को घटाने में मदद करता है।

एक शोध से पता चला कि सॉना स्नान के तुरंत 30 मिनट बाद प्रतिभागियों का सिस्टोलिक रक्तचाप (उपरी संख्या)137 एमएमएचजी से घटकर 130 एमएमएचजी पर आ गई और उनका डायस्टोलिक (नीचे की संख्या) 82 एमएमएचजी से घटकर 75 एमएमएचजी पर आ गई।

यहां तक कि सॉना स्नान के 30 मिनट बाद भी सिस्टोलिक रक्तचाप कम बना रहा। इसके अलावा, शोधकर्ताओं ने संवहनी अनुपालन में तेजी देखी, जो दिल की घड़कन की दर को उसी तरह से बढ़ा देता है, जिस तरीके से मध्यम-तीव्रता के व्यायाम से बढ़ती है।

यूनिवर्सिटी ऑफ इस्टर्न फिनलैंड के प्रोफेसर और अध्ययन में पाया गया कि आधे घंटे की सॉना स्नान से धमनी की कठोरता, रक्तचाप, और कुछ रक्त-आधारित बायोमार्कर पर लाभकारी प्रभाव पड़ता है।

हालांकि पहले के अध्ययन भी यह बताते हैं कि लगातार सॉना स्नान करने से कोरोनरी बीमारियों और हृदय की धड़कन रुकने से होनेवाली एकाएक मृत्यु, उच्च रक्तचाप, अलजाइमर्स रोग और पागलपन का जोखिम घट जाता है। नया अध्ययन यूरोपियन जर्नल ऑफ प्रीवेंटिव कार्डियोलॉजी में प्रकाशित हुआ है।