नई दिल्ली : मोमबत्तियां, फायरप्लेस, क्रिसमस लाइट की जगमगाहट न सिर्फ आपके घर की खूबसूरती बढ़ाते हैं, बल्कि वास्तु संबंधी घर में सकारात्मक ऊर्जा भी लाते हैं।

अंकशास्त्री, टैरो और वास्तु विशेषज्ञ शैली माहेश्वरी गुप्ता ने सकारात्मक ऊर्जा लाने संबंधी ये सुझाव दिए हैं :

* अग्नि, सूर्य और जीवन की ऊर्जा का प्रतिनिधित्व करता है। फेंग शुई का संतुलित अग्नि तत्व आपके घर में न सिर्फ उल्लास और उत्साह वाला माहौल बनाता है, बल्कि प्रभावी सकारात्मक ऊर्जा भी लाता है। बच्चों के कमरों में बेहद संतुलित मात्रा में और अन्य जगहों लिविंग रूम, डायनिंग रूम और किचन में खुलकर लाल रंग का प्रयोग करें।

* मोमबित्तयां शुद्ध व प्रेरणादायी ऊर्जा लाती हैं। ये रोजाना के तनाव को दूर कर माहौल में गर्माहट का अहसास कराती है और सकारात्मक ऊर्जा लाती हैं। फेंग शुई के अनुसार मोमबत्ती का इस्तेमाल दक्षिण, दक्षिणपूर्व, उत्तरपूर्व और घर के सेंटर में करें।

* अपने घर को 'यू' शेप में मालाओं और लाइट से सजाएं, ताकि देखने में वे 'स्माइल' (मुस्कुराने) जैसे नजर आए। कमरे में इस सकारात्मक, उल्लासमयी ऊर्जा को बढ़ाने के लिए इसे आईलेवल पर डेकोरेट करें।

* लकड़ी के एक फ्रेम में परिवार और दोस्तों के साथ की अपनी तस्वीर को लगाएं। फेंग शुई के मुताबिक, लकड़ी का परिवार और दोस्तों के साथ जुड़ाव है। इससे रिश्तों में करीबी और अपनापन रहता है। यूकेलिप्टिस सेंट माहौल से नकारात्मक ऊर्जा को दूर करता है। लौंग और बेबरी के सुगंध शांति और सौहार्द बढ़ाते हैं। किचन या डायनिंग रूम में संतरों में लौंग रखने से सुख, समृद्धि और प्रसन्नता में वृद्धि होती है।

वास्तु विशेषज्ञ मुकुल कौशिक ने भी सकारात्मक ऊर्जा लाने के संबंध में ये सुझाव दिए हैं :

* घर के उत्तरपूर्व दिशा के मध्य में बैम्बू या मनीप्लांट का पौधा रखें। इससे न सिर्फ धन में वृद्धि होती है बल्कि सकारात्मक माहौल भी बनता है।

* रोजाना शाम के समय अपने कमरे में दक्षिण दिशा में दो-तीन घंटे लाल रंग का लैम्प जलाएं। यह नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के साथ ही सर्दी में गर्माहट लाने भी मददगार होता है।

* घर की दक्षिण दिशा में साल्ट लैम्प का इस्तेमाल करें और रोज कपूर जलाएं, जिससे घर की हवा शुद्ध होगी और आपको प्रसन्नता महसूस होगा।

* ड्राइंग रूम (बैठक) में जेड पौधा लगाएं। इससे सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है।