न्यूयॉर्क : महाराष्ट्र के मु्ख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि वह मुंबई को वित्तीय प्रौद्योगिकी उद्योग का केंद्र बनाने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह एक उभरता और तेजी से बढ़ता हुआ क्षेत्रा है, जिसमें रोजगार की जबरदस्त क्षमता है और वह राज्य में इस क्षेत्र में विदेशी निवेश को आमंत्रित करते हैं।

फडणवीस ने कहा,"हमारा ध्यान वित्तीय प्रौद्योगिकी (फिनटेक) की तरफ है। हमने देश की आर्थिक राजधानी के रूप में मुंबई का लाभ नहीं उठाया है। वित्तीय प्रौद्योगिकी एक उभरता हुआ क्षेत्र है, जो कि न सिर्फ नौकरियों के अवसर खोलता है बल्कि सबसे तेजी से बढ़ते क्षेत्रों में से एक है।" कनाडा की यात्रा समाप्त करके फडणवीस अमेरिका पहुंचे हैं। उन्होंने कहा,"हम मुंबई को वित्तीय प्रौद्योगिकी का केंद्र बनाने चाहते हैं और यहीं वह क्षेत्र है जहां मैं निवेश और कंपनियों के आने की उम्मीद कर रहा हूं और चाहता हूं कि वह शहर में अपना केंद्र (बेस) स्थापित करें।"

फडणवीस न्यूयॉर्क के बाद वॉशिंगटन और सैन फ्रांसिस्को की यात्रा भी करेंगे। वह निवेशकों तथा कंपनियों के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेंगे तथा उन्हें राज्य में निवेश करना जारी रखने के लिए आमंत्रित करेंगे। फडणवीस ने निवेशकों और कंपनियों प्रतिनिधियों को दिए संदेश में कहा कि भारत बदल रहा है और महाराष्ट्र भी बदल रहा है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने जोर दिया कि उनके राज्य देश में सबसे अधिक विदेशी निवेश आकर्षित करने में सक्षम रहा है। उन्होंने कहा कि कारोबारी सुगमता के लिहाज से हम दुनिया में किसी भी अन्य स्थान से ज्यादा प्रतिस्पर्धी हैं। निवेशकों को यहां आना चाहिए। यदि वह अपने निवेश पर बेहतर रिटर्न चाहते हैं। हम निवेश के बेहतर स्थान है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा लागू किए गए नोटबंदी और माल एवं सेवा कर (जीएसटी) जैसे महत्वाकांक्षी सुधारों का विदेशी निवेशकों और कंपनियों ने स्वागत किया है।