Sun Jun 25, 2017 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
बैडमिंटन : आस्ट्रेलिया ओपन फाइनल रविवार को श्रीकांत का मुकाबला लोंग से 
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पुर्तगाल पहुंचे
टॉटन टी-20 : दक्षिण अफ्रीका ने इंग्लैंड को 3 रनों से हराया  
टॉटन टी-20 : दक्षिण अफ्रीका ने इंग्लैंड को 3 रनों से हराया  
महिला विश्व कप : भारत ने इंग्लैंड को दिया 282 रनों का लक्ष्य  

गेस्ट कॉलम



किसानों के लिए ये गांव प्रेरणास्रोत
गेस्ट कॉलम

किसानों के लिए ये गांव प्रेरणास्रोत

एक वाटरशेड (जलागम) परियोजना ने किसानों को बारिश के लिए हर मौसम में आसमान की ओर निहारने से मुक्ति दिला दी है। तीन गांवों - कदवांची, नंदापुर तथा वाघरुल के 1,888 हेक्टेयर इलाके में वर्ष 1990 के मध्य से ही पर्याप्त मात्रा में पानी मौजूद है।



एक लंबा सफर लम्हों में गुजर गया : धर्मेद्र 
गेस्ट कॉलम

एक लंबा सफर लम्हों में गुजर गया : धर्मेद्र 

धर्मेद्र ने कहा, “एक लंबा सफर लम्हों में गुजर गया। अगर हम इसे देखे तो यह लंबा सफर रहा है और यह बस कुछ लम्हों में ही गुजर गया। मैं अब सोचता हूं कि यह इतनी जल्दी क्यों गुजर गया। मैं अपने सहयोगियों और उस दौर के माहौल को याद करता हूं। मैं बहुत सी चीजें याद करता हूं। यह एक खूबसूरत सफर रहा है।”



 ‘सिलसिला सिनेमा का’ भारतीय सिनेमा का इतिहास दर्शाएगी
गेस्ट कॉलम

‘सिलसिला सिनेमा का’ भारतीय सिनेमा का इतिहास दर्शाएगी

भारतीय सिनेमा के इतिहास के बारे में दर्शकों का ज्ञान बढ़ाने के लिए आठ भागों वाली एक लघु श्रृंखला ‘सिलसिला सिनेमा का’ प्रसारित की जाएगी। श्रृंखला का प्रसारण शुक्रवार से ‘एपिक’ चैनल पर किया जाएगा, जिसमें भारत के विस्तृत फिल्म उद्योगों और उन महत्वपूर्ण पड़ावों पर रोशनी डाली जाएगी, जो अभी तक इतिहास के पन्नों में छिपे थे।



पाकिस्तान और श्रीलंका के लेखकों की पहली पसंद बने भारत के प्रकाशक
गेस्ट कॉलम

पाकिस्तान और श्रीलंका के लेखकों की पहली पसंद बने भारत के प्रकाशक

भारत के पड़ोसी देशों के लेखकों की पहली पसंद भारतीय प्रकाशन संस्थान बनते जा रहे हैं।इन लेखकों की कई पांडुलिपियों को उनके देश में खारिज कर दिया जाता है, जबकि भारतीय प्रकाशक उनमें दिलचस्पी का इजहार करते हैं। इन प्रकाशन संस्थानों के संपादकों का कहना है कि अंतर्वस्तु (कंटेंट) के साथ अधिक प्रयोग के कारण पाकिस्तान तथा श्रीलंका जैसे देशों के लेखकों का सफर उनके यहां आसान हो जाता है।



जियो, सीखो और कामयाब हो
गेस्ट कॉलम

जियो, सीखो और कामयाब हो

नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के पूर्व छात्र नवाजुद्दीन सिद्दीकी का कहना है कि किसी की प्रतिभा को तराशने व आकार देने में शिक्षा की महत्ता को नकारा नहीं जा सकता। हिंदी माध्यम के स्कूल से पढ़ाई की है और उनका कहना है कि शिक्षा की भाषा कोई मायने नहीं रखती है।

 वैशाली में भगवान बुद्ध अस्थियों की संग्रहालय स्थापित करने की रफ्तार धीमी          
गेस्ट कॉलम

वैशाली में भगवान बुद्ध अस्थियों की संग्रहालय स्थापित करने की रफ्तार धीमी          

वैशाली में मिली भगवान बुद्ध की अस्थियों को वहां संग्रहालय बनाकर स्थापित करने का कार्य पिछले चार वर्षो से बेहद धीमी रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। इस दिशा में 72 एकड़ जमीन अधिग्रहित करने और धन का आवंटन किये जाने से इस बारे में उम्मीद बंधी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हाल ही में कहा कि भगवान बुद्ध के अस्थिकलश को फिर से वैशाली में स्थापित किया जायेगा।



मोदी ने देश भर में पुस्तक पठन आंदोलन का आह्वान किया
गेस्ट कॉलम

मोदी ने देश भर में पुस्तक पठन आंदोलन का आह्वान किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश भर में एक पठन तथा पुस्तकालय आंदोलन का आह्वान किया, जिससे न सिर्फ लोग साक्षर होंगे, बल्कि सामाजिक व आर्थिक बदलाव भी आएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि उपनिषद के वक्त से ही ज्ञानी लोगों का जीवन भर सम्मान होता आया है।उन्होंने कहा, “हम इस वक्त सूचना के युग में हैं। यहां तक कि आज भी ज्ञान ही मार्ग दिखा रहा है।”



सहज शब्दों में गंभीर संदेश देती है ‘फुल्लू’ : शरीब हाशमी (साक्षात्कार)
गेस्ट कॉलम

सहज शब्दों में गंभीर संदेश देती है ‘फुल्लू’ : शरीब हाशमी (साक्षात्कार)

महिलाओं से संबंधित मासिक धर्म समाज में गैर-महत्वपूर्ण मुद्दा है, जिस पर कोई बात नहीं करना चाहता, लेकिन अभिनेता शरीब हाशमी की फिल्म ‘फुल्लू’ ने इस मुद्दे पर लोगों का ध्यान आकर्षित करने की कोशिश की है। शरीब का कहना है कि उनकी फिल्म सहज शब्दों में गंभीर संदेश देती है।भारतीय सिनेमा में शायद पहली बार कोई फिल्म मासिक धर्म और सैनिटरी नैपकिन जैसे विषय पर बनी है, जिसे सेंसर बोर्ड ने ‘ए’ प्रमाणपत्र दिया है, यानी इसे केवल व्यस्क दर्शक ही देख पाएंगे।



खाने की आदत पर लगाम नहीं लगा सकते, संतुलन जरूरी : रविशंकर प्रसाद
गेस्ट कॉलम

खाने की आदत पर लगाम नहीं लगा सकते, संतुलन जरूरी : रविशंकर प्रसाद

रविशंकर प्रसाद ने यहां संवाददाताओं से कहा, “हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि लोगों का एक बड़ा तबका गाय का आदर तथा उसकी पूजा करता है। हम लोगों के खाने की आदत को नियंत्रित नहीं कर सकते। एक संतुलन होना चाहिए।”केंद्र में मोदी सरकार के तीन साल पूरा होने के मौके पर मंत्रालय की उपलब्धियां गिनाने के लिए प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया था, जिसमें मंत्री ने ये बातें कहीं।

राष्ट्रपति चुनाव में खेला जा रहा है एक दूसरे के खेमे में सेंध लगाने का खेल..जानिए कैसे
समाचार

राष्ट्रपति चुनाव में खेला जा रहा है एक दूसरे के खेमे में सेंध लगाने का खेल..जानिए कैसे

भलेहि मोदी सरकार के विरोध में कई सारे विरोधी दल कांग्रेस के साथ एकजुट नजर आ रहे हैं, पर उन्होंने अपनी मजबूरियां भी कांग्रेस नेताओं के साथ हुई बैठक में रख दी हैं। लगता है भाजपा इन्हीं मतभेदों व मजबूरियों का फायदा उठाना और विपक्षी एकता में दरार डालना चाहती है।

जो करते है ऑनलाइन शॉपिंग पर भरोसा, पढ़े ये खबर
गेस्ट कॉलम

जो करते है ऑनलाइन शॉपिंग पर भरोसा, पढ़े ये खबर

बदलते समय में हमारी खरीदारी करने का तरीका भी बदल गया है। प्रौद्योगिकी ने इसे इतना आसान कर दिया कि सब्जी से लेकर एयरकंडीशनर तक हम घर बैठे कम्प्यूटर पर बस एक क्लिक कर खरीद सकते हैं।

बाल विवाह गांवों में घटे, शहरों में बढ़े
गेस्ट कॉलम

बाल विवाह गांवों में घटे, शहरों में बढ़े

बाल विवाह, विशेषकर कन्याओं का विवाह भारत के ग्रामीण इलाकों में घटा है लेकिन शहरी इलाकों में बढ़ा है। बड़ी बात यह है कि लड़कों की तुलना में नाबालिग लड़कियों की शादियां अधिक हो रही हैं।



पहला हिंदी-तेलुगु-हिंदी अनुवाद सम्मेलन आयोजित, एन आर श्याम चुने गये अध्यक्ष
गेस्ट कॉलम

पहला हिंदी-तेलुगु-हिंदी अनुवाद सम्मेलन आयोजित, एन आर श्याम चुने गये अध्यक्ष

साहित्य सेवा समिति, हैदराबाद की ओर से हिंदी-तेलुगु-हिंदी अनुवाद सम्मेलन कोठी स्थित वाईएमआईएस हॉल में रविवार को संपन्न हुआ। इस सम्मेलन का आयोजन प्रमुख कहानीकार एन आर श्याम के नेतृत्व में किया गया। कार्यक्रम के आयोजक एन आर श्याम को अस्थायी अध्यक्ष चुना गया।



स्वीडन ने खोला विफलता का संग्रहालय
गेस्ट कॉलम

स्वीडन ने खोला विफलता का संग्रहालय

गूगल और एपल को हालांकि किसी असफलता के साथ नहीं जोड़ा जाता, लेकिन नवाचार के जोखिम भरे कारोबार में कुछ भी संभव है। स्वीडन में नए खोले गए संग्रहालय में इन दोनों कंपनियों के दो विफल उत्पाद रखे गए हैं, जो या तो समय से पहने ही बना लिए गए, या फिर इनको बनाने का विचार ही खराब था।

देश में महामारी का रूप ले रही थायरॉइड की बीमारी
सेहत

देश में महामारी का रूप ले रही थायरॉइड की बीमारी

भारत में थायरॉइड के मरीजों की संख्या किस कदर बढ़ रही है, इसका खुलासा हाल ही में डायग्नोस्टिक चेन एसआरएल द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट में हुआ है।



सड़क और राजमार्ग परियोजनाओं को विदेशों तक लेकर जाएगा भारत
गेस्ट कॉलम

सड़क और राजमार्ग परियोजनाओं को विदेशों तक लेकर जाएगा भारत

सड़कों और राजमार्गो के निर्माण से संबंधित परियोजनाओं को विदेशों तक, विशेषकर दक्षिण एशिया तक पहुंचाने के लिए सरकार राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की एक समर्पित अंतर्राष्ट्रीय सहायक कंपनी का शुभारंभ करने की योजना बना रही है। इसके साथ ही, भारत पड़ोसी देशों में सड़क निर्माण हेतु संयुक्त उद्यम की स्थापना की भी कोशिश कर रहा है।



पृथ्वी की रक्षा के लिए पर्यावरण बचाने की जरूरत : रमन सिंह
गेस्ट कॉलम

पृथ्वी की रक्षा के लिए पर्यावरण बचाने की जरूरत : रमन सिंह

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने पृथ्वी की रक्षा के लिए दुनिया के पर्यावरण को बचाने की जरूरत पर बल दिया है। उन्होंने इसके लिए सभी लोगों से अपने-अपने कार्य क्षेत्र में सक्रिय भागीदारी का आह्वाहन किया है। पर्यावरण की सुरक्षा हम सब की सामाजिक और नैतिक जिम्मेदारी है।

‘गुरुदेव’ के उपन्यास ‘घरे-बाइरे’ पर आधारित नाटक का मंचन
गेस्ट कॉलम

‘गुरुदेव’ के उपन्यास ‘घरे-बाइरे’ पर आधारित नाटक का मंचन

अब तक 150 से ज्यादा नाटकों में विविध भूमिकाएं निभा चुके और 25 नाटकों का निर्देशन करने वाले ओडिशा और दिल्ली के जाने-माने रंगकर्मी चितरंजन सतपथि ने नाटक ‘घर और बाहर’ का मंचन किया। 1916 में गुरुदेव रबींद्रनाथ टैगोर के द्वारा लिखे गये प्रसिद्ध उपन्यास ‘घरे-बाइरे’ पर आधारित इस नाटक को रंगकर्मी डॉ. प्रतिभा अग्रवाल ने लिखा है।



नशा मुक्ति अभियान चलाने वाले संत  डेमनिया भाई का सम्मान
गेस्ट कॉलम

नशा मुक्ति अभियान चलाने वाले संत डेमनिया भाई का सम्मान

मध्य प्रदेश के मालवा-निमांड़ अंचल में नशा उन्मूलन का अभियान चलाने वाले बड़वानी के आदिवासी संत डेमनिया भाई को हरिद्वार स्थित गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में आयोजित समारोह में सम्मानित किया गया है। संत डेमनिया भाई ने कहा कि यह सम्मान आदिवासी उन भाई-बहनों का है, जिन्होंने आचार्यश्री के बातों को मानकर नशा मुक्त रहने का संकल्प लिया है।



 ‘भारतीय कहानियों को खूबसूरती से बयां करती हैं बॉलीवुड फिल्में‘
गेस्ट कॉलम

‘भारतीय कहानियों को खूबसूरती से बयां करती हैं बॉलीवुड फिल्में‘

हॉलीवुड अभिनेत्री, निर्माता और परोपकार के कार्यो से जुड़ीं गाब्रिएला डायस भारतीय फिल्मों, फैशन और लोगों को पसंद करती हैं। गाब्रिएला को लगता है कि भारत में एक रहस्यमय आकर्षण है और बॉलीवुड की फिल्मों ने भारतीयों की कहानी को एक सुंदर तरीके से दुनिया के सामने पेश किया है।



कश्मीर पर सियासत नहीं, समाधान की जरूरत
गेस्ट कॉलम

कश्मीर पर सियासत नहीं, समाधान की जरूरत

कश्मीर के मौजूदा हालात पर जिस तरह की सियासत हो रही है, उसे देखकर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की चंद पंक्तियां बरबस याद आ जाती हैं। उन्होंने कहा था, “सत्ता का खेल तो चलेगा, सरकारें आएंगी-जाएंगी, पार्टियां बनेंगी-बिगड़ेंगी, मगर यह देश रहना चाहिए, इस देश का लोकतंत्र रहना चाहिए..।”



पिता अपनी बेटियों की जरूरतों पर अधिक ध्यान देते हैं
गेस्ट कॉलम

पिता अपनी बेटियों की जरूरतों पर अधिक ध्यान देते हैं

30 लड़कियों व 22 लड़कों के 52 पिताओं पर किए गए शोध के मुताबिक, लड़कियों के मामले में पिता अपनी सभी प्रकार की भावनाओं को खुलकर जाहिर करते हैं, चाहे बात मायूसी या किसी बात को लेकर दु:खी होने की ही क्यों न हो, जबकि लड़कों के मामले में पिता का व्यवहार बिल्कुल उलट होता है।



‘कानूनी फैसले से हल नहीं हो सकता अयोध्या विवाद’
गेस्ट कॉलम

‘कानूनी फैसले से हल नहीं हो सकता अयोध्या विवाद’

सर्वोच्च न्यायालय द्वारा राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मुद्दे की त्वरित सुनवाई करने से इनकार करने और इस मामले का हल अदालत से बाहर बातचीत के माध्यम से निकालने का निर्देश देने के बाद स्पष्ट हो गया है कि मुद्दे का कानूनी समाधान संभव नहीं है। सन् 1993 में अपने फैसले में सर्वोच्च न्यायालय ने यह संकेत दिया था कि मुद्दे पर कोई भी फैसला जोखिम भरा होगा। इस प्रकार अयोध्या मुद्दा जस का तस बना हुआ है।



अपने बच्चों को पूरी स्वतंत्रता देना चाहता हूं : तेंदुलकर
गेस्ट कॉलम

अपने बच्चों को पूरी स्वतंत्रता देना चाहता हूं : तेंदुलकर

दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का कहना है कि वह अपनी जीवन पर बन रही फिल्म ‘सचिन : ए बिलियन ड्रीम्स’ के जरिए वो संदेश देना चाहते हैं जो उनके माता-पिता ने उन्हें दिया था। सचिन के मुताबिक वह अपने बच्चों को अपनी मर्जी के मुताबिक सपने जीने की स्वतंत्रता देना चाहते हैं।सचिन के दो बच्चे अर्जुन (बेटा) और सारा (बेटी) हैं।



मोदी सरकार के 3 वर्षो के दौरान बेरोजगारी बढ़ी
गेस्ट कॉलम

मोदी सरकार के 3 वर्षो के दौरान बेरोजगारी बढ़ी

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के मई, 2014 में केंद्र में सरकार बनाने के बाद से देश में बोरजगारी बढ़ी है। सरकारी आंकड़ों से यह खुलासा हुआ है। भाजपा ने जब देश की सत्ता संभाली थी उस समय 2013-14 में देश में बेरोजगारी दर 4.9 फीसदी थी, जो अगले एक साल में 2015-16 में थोड़ा-सा बढ़कर 5.0 फीसदी हो गई।



हिंदू व मुस्लिम पत्नियों ने एक-दूसरे के पति को दी किडनी
गेस्ट कॉलम

हिंदू व मुस्लिम पत्नियों ने एक-दूसरे के पति को दी किडनी

मानवता किसी सीमा के बंधन में नहीं बंधती, इस बात का एक बार फिर प्रमाण मिला है। दो हिंदू और मुस्लिम महिलाओं ने एक-दूसरे के पतियों को अपनी किडनियां दान देकर नई जिंदगी दी है।ग्रेटर नोएडा के रहने वाले इकराम (29) और बागपत के रहने वाले राहुल वरिष्ठ (36), दोनों को किडनी की जरूरत थी।



तीन तलाक को खत्म किया जाना चाहिए : शबाना आजमी
गेस्ट कॉलम

तीन तलाक को खत्म किया जाना चाहिए : शबाना आजमी

अभिनेत्री और कार्यकर्ता शबाना आजमी ने आज कहा कि तीन तलाक अमानवीय है और यह हर मुस्लिम महिला के मूलभूत अधिकारों का उल्लंघन करता है। मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करना सरकार का दायित्व है और तीन तलाक प्रणाली को खत्म करने के मुद्दे पर कोई दो राय नहीं होनी चाहिए।



दुनियाभर में ह्दय संबंधी रोगों से होती है एक तिहाई मौतें
गेस्ट कॉलम

दुनियाभर में ह्दय संबंधी रोगों से होती है एक तिहाई मौतें

हाल के एक ताजा अध्ययन ने हृदय रोगों के संबंध में चेतावनीपूर्ण खुलासा किया है। अध्ययन के मुताबिक, दुनियाभर में होने वाली हर तीन में एक मौत दिल संबंधी रोगों (सीवीडी) की वजह से होती है।

एचआईवी संक्रमित महिलाएं रख सकती हैं गर्भस्थ शिशु को सुरक्षित
गेस्ट कॉलम

एचआईवी संक्रमित महिलाएं रख सकती हैं गर्भस्थ शिशु को सुरक्षित

एचआईवी अब मातृत्व के लिए श्राप नहीं रह गया है। बशर्ते महिलाओं को यह पता हो कि वे इससे संक्रमित हैं। आधुनिक चिकित्सा पद्धतियों ने मां के एचआईवी संक्रमण से उसके गर्भ में पल रहे बच्चे का बचाव करना मुमकिन कर दिया है। इसलिए एक गर्भवती महिला को मातृत्व का आनंद लेने के लिए एचआईवी की जांच भी जरूर करवा लेनी चाहिए।

 कश्मीरी छात्रों की किस्मत बदलने का बीड़ा IIT छात्रों ने उठाया  
समाचार

कश्मीरी छात्रों की किस्मत बदलने का बीड़ा IIT छात्रों ने उठाया  

कश्मीर में सिर्फ पत्थरबाज ही नहीं, बल्कि देश के शीर्ष संस्थानों में अपनी कामयाबी का झंडा गाड़ने को आतुर मेधावी छात्र भी रहते हैं, जिनके भीतर हर वक्त कुछ कर गुजरने का जज्बा होता है।

UP सरकार का रिपोर्ट कार्ड : योगी में है दम...पर अपराध क्यों नहीं हुए कम..!
गेस्ट कॉलम

UP सरकार का रिपोर्ट कार्ड : योगी में है दम...पर अपराध क्यों नहीं हुए कम..!

पूर्व सीएम अखिलेश यादव की तरह सीएम योगी आदित्यनाथ भी फेल होते जा रहे हैं। यदि यही हाल रहा तो यूपी सरकार को तगड़ा झटका लग सकता है। सीएम योगी ने 100 दिन पूरा होने पर सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी करने की बात कही है, लेकिन वर्तमान में जो स्थिति है, उससे सीएम योगी की परेशानी बढ़ सकती है।



ज्यादा उम्र में मां बनना गलत नहीं (मातृ दिवस पर विशेष)
गेस्ट कॉलम

ज्यादा उम्र में मां बनना गलत नहीं (मातृ दिवस पर विशेष)

अधिक उम्र में मां बनने पर महिलाओं को कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, लेकिन चिकित्सकों का कहना है कि 40 या इससे अधिक उम्र में मां बनना गलत विचार नहीं है।

जनता अब नहीं करेगी आंदोलनों पर विश्वास..!
गेस्ट कॉलम

जनता अब नहीं करेगी आंदोलनों पर विश्वास..!

अन्ना आंदोलन में दिल्ली के रामलीला मैदान से लेकर सड़कों तक ऐतिहासिक जन समुद्र उमड़ पड़ा था, विद्यार्थी, प्रोफेशनल्स, एनआरआई का सैलाब था। मीडिया और सोशल मीडिया की पहुंच ने देश के हर नागरिक को आंदोलन से जोड़ दिया था। वातावरण पूर्णतः परम्परागत राजनीति से अलग था।



रोमानिया में 11वीं कक्षा में पढ़ाये जाते हैं रामायण, महाभारत के अंश
समाचार

रोमानिया में 11वीं कक्षा में पढ़ाये जाते हैं रामायण, महाभारत के अंश

भारत और रोमानिया के बीच बेहद करीबी और मजबूत संबंधों को रेखांकित करते हुए रोमानिया के राजदूत राडू ओक्टावियन डोबरे ने बताया कि दोनों देशों के करीबी सांस्कृतिक संबंध हैं और इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि हमारे यहां 11वीं कक्षा में बच्चों को रामायण और महाभारत के अंश पढाये जाते हैं।

 राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की कोई सानी नहीं
गेस्ट कॉलम

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की कोई सानी नहीं

देश में बरसों से कई फिल्म पुरस्कार समारोह होते रहे हैं। उनमें से कुछ में बड़े-बड़े सितारों की मौजूदगी और उनके द्वारा प्रस्तुत देर रात तक चलने वाले रंगारंग कार्यक्रम ऐसे समारोह को लोकप्रिय भी बनाते हैं।

मौत की सजा दुष्कर्म रोकने का हल नहीं
गेस्ट कॉलम

मौत की सजा दुष्कर्म रोकने का हल नहीं

निर्भया मामले के दोषियों को फांसी देने से क्या दुष्कर्म जैसे घिनौने अपराधों से मुक्ति मिल जाएगी? यही वो सवाल है जो बार-बार मन को करौंदता है। निर्भया के दोषियों पर सजा मुकर्रर हो चुकी है।

चुनावों को एकसाथ कराने से जुड़ा है संघीय ढांचे का सवाल
समाचार

चुनावों को एकसाथ कराने से जुड़ा है संघीय ढांचे का सवाल

भारतीय लोकतंत्र के अलग-अलग हिस्सों में बड़े बदलावों के संकेत मिल रहे हैं। कई चीजें जिनके बारे में महज कुछ साल पहले तक सोचा भी नहीं जा सकता था, वे साक्षात घटित हो रही हैं। लोकतंत्र के बुनियादी स्वरूप में फेरबदल की कवायद शुरू हो चुकी है।



मई दिवस: श्रमिकों की बेहतरी के लिए अच्छी नीतियों की जरूरत - सोनिया
गेस्ट कॉलम

मई दिवस: श्रमिकों की बेहतरी के लिए अच्छी नीतियों की जरूरत - सोनिया

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सोमवार को कहा कि श्रमिकों की स्थिति ‘सिर्फ बातों, नारों और वादों से नहीं बदलेगी।’ सरकार को इनके जीवन में बदलाव लाने के लिए नई नीतियां और बेहतर योजनाएं लानी होंगी।



‘आरएसएस सरकार’ प्रगतिशील लेखकों को कभी स्वीकार नहीं करेगी : नयनतारा सहगल
गेस्ट कॉलम

‘आरएसएस सरकार’ प्रगतिशील लेखकों को कभी स्वीकार नहीं करेगी : नयनतारा सहगल

भारत की नारीवादी लेखिकाओं में से एक नयनतारा सहगल ने अपना साहित्य अकादेमी पुरस्कार 2015 में देश में असहिष्णुता बढ़ने के मुद्दे पर लौटा दिया था। यह पूछे जाने पर कि क्या वह सरकार से फिर से कोई सम्मान स्वीकार करेंगी? उन्होंने कहा, ‘कभी नहीं।’



चंदन गीतों के जरिए बांट रहीं गांधी के संदेश
गेस्ट कॉलम

चंदन गीतों के जरिए बांट रहीं गांधी के संदेश

अपनी लोक गायकी से देश-दुनिया में ख्याति पा चुकीं गायिका चंदन तिवारी गांधी के चंपाराण सत्याग्रह के 100 वर्ष पूरे होने पर गीतों के माध्यम से गांधी के संदेश और उनके विचार युवाओं तक पहुंचाने की कोशिश में लगी हैं। उनकी ‘गान्ही जी’ श्रृंखला को लोग खूब पसंद भी कर हे हैं।