कहते है ना कि किसी भी चीज की अति नुकसान ही पहुंचाती है। ऐसा ही कुछ आपके खाने के साथ भी है। कुछ लोगों को मीठा खाना पसंद होता है तो कुछ को नमकीन। अगर ये सब जरूरत से ज्यादा खा लिया जाए तो ये आपको नुकसान भी पहुंचा सकते हैं। आइए जानते हैं कि ज्यादा मीठा और नमकीन खाने से आपको क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं।

ज्यादा मीठा खाने के नुकसान

- मीठा खाने से मोटापा बढ़ता है। मोटापे से कई तरह की बीमारियां जैसे ह्रदय रोग, ऑर्थराइटस, प्रोस्टेट कैंसर, हाइपरटेंशन आदि होती हैं।

- डायबिटीज दो प्रकार की होती है पहला आनुवांशिक और दूसरा मीठा खाने की वजह से। मीठा खाने से ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है जिस कारण डायबिटीज होती है।

- जरूरत से ज्यादा मीठा खाने से दिल का दौरा पड़ने की संभावना बढ़ जाती है।

जो लोग एक दिन में एक से ज्यादा सॉफ्ट ड्रिंक लेते हैं उन्हें मेटाबॉलिक सिंड्रोम की समस्या हो सकती है। अधिकतर ये समस्या 44 साल से अधिक के महिलाओं और पुरुषों में होती है।

- ज्यदा मीठा खाने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है जिससे ह्रदय रोगों की संभावना बढ़ जाती है।

- अधिक मात्रा में मीठा खाने वृद्धावस्था में अल्जाइमर्स की समस्या हो सकती है। याद्दाशत में कमी, निर्णय ना ले पाना आदि अल्जाइमर्स के लक्षण होते हैं।ज्यादा नमक खाने के नुकसान

- ज्यादा नमक खाने से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या रहती है।

- इससे आपकी किडनी पर प्रभाव पड़ता है।

- आपको दौरे पड़ते हैं।ज्यादा नमक खाने से ह्रदय के रोगों की संभावना बढ़ती है।

- नमक ज्यादा खाने से दमा भी हो सकता है क्योंकि नमक की अधिकता शरीर में रेस्पिरेटरी सिस्टम को प्रभावित करती है।