हैदराबाद : डिजिटल मीडिया के लिए सेंसर बोर्ड की शर्तें लागू नहीं होने की वजह से शार्ट फिल्में अकसर विवादास्पद बनती जा रही हैं। हाल ही में हिन्दू लड़की और मुस्लिम लड़के की प्रेम कहानी पर बनी एक शार्ट फिल्म को अपनी भावनाओं को आहत पहुंचाने वाली बताते हुए कुछ ब्राह्मण संघ आरोप लगाने लगे हैं।

तेलुगु फिल्म 'ब्राह्मणुला अम्माई नवाबुला अब्बाई' को ब्राह्मण समाज को नीचा दिखाने वाली और लव जिहाद को प्रेरित करने वाली बताते हुए उसकी रिलीज पर रोक लगाने और फिल्म के ट्रेलर को यू ट्यूब सहित अन्य सोशल मीडिया से हटाए जाने की मांग की जा रही है।

इसे भी पढ़ें :

चोर गिरोह का भंडाफोड़, दो करोड़ की संपत्ति बरामद, 12 गिरफ्तार

इस शार्ट फिल्म को पर्देपर उतारने वाली फिल्म की यूनिट के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग को लेकर शांतिनगर निवासी विशाल ने लालागुड़ा थाने में शिकायत की है। इस संबंध में ब्राह्मण संघ के प्रतिनिधि बुधवार को क्षेत्रीय सेंसर बोर्ड के अधिकारी, पुलिस महानिदेशक महेंदर रेड्डी, सिनमेटोग्राफी मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव, सरकार के मुख्य सचिव एसके जोशी से भेंट कर शार्ट फिल्म पर रोक लगाने की अपील करने वाले हैं।

इस शार्ट फिल्म के निर्देशक फारुक राय, निर्माता चंचल शर्मा सहित फिल्म यूनिट के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग करने वाले हैं।