मुंबई : आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने प्रसिद्ध अभिनेत्री सावित्री की जीवनी पर बनी फिल्म 'महानटी' को राज्य में कर में छूट देने का प्रस्ताव दिया, लेकिन फिल्म निर्माता अश्विनी दत्त ने इसे अस्वीकार कर दिया। फिल्म की टीम के लिए मुख्यमंत्री का यह प्रस्ताव ही अपने आप में आभारी कर देने वाला है और राष्ट्रीय पुरस्कार से बढ़कर है।

'महानटी' की सह-निर्माता व अश्विनी की बेटी प्रियंका ने कहा, "हम बहुत सम्मानित महसूस कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने हमारी पार्टी के पोस्टर के साथ अपने पार्टी कार्यालय को सजाया और प्रेस और मेहमानों को आमंत्रित किया और प्रशंसा की। यह हमारे लिए राष्ट्रीय पुरस्कार से ज्यादा मायने रखता है।"

ये भी पढ़ें :

राम गोपाल वर्मा ने खुद को बताया आतंकवादी, फिल्म स्कूल उद्घाटन पर कही ये बात...

उन्होंने कहा, "चंद्रबाबू नायडू सर बमुश्किल ही कभी फिल्में देखते हैं, लेकिन उन्हें 'महानटी' पसंद आई। उन्होंने अपने कैबिनेट के लिए फिल्म की विशेष स्क्रीनिंग की मेजबानी की और उनसे कहा कि वे सावित्री गारू के जीवन से बहुत कुछ सीख सकते हैं। उन्होंने हमारी फिल्म के लिए कर छूट की पेशकश की जिसे मेरे पिता ने अस्वीकार कर दिया क्योंकि वह मानते हैं कि सरकार को राज्य में विकास के लिए कर की जरूरत है।" महानटी' में प्रमुख भूमिका निभाने वाली अभिनेत्री कीर्ति सुरेश ने भी इस पर कहा कि उन्हें गर्व महसूस हो रहा है।

उन्होंने कहा, "अब अपनी आने वाली परियोजनाओं के लिए मेरी जिम्मेदारी बढ़ गई है। एक ही सप्ताह में महिलाओं के मुख्य पात्र वाली दो फिल्में - तेलुगू-तमिल में 'महानटी' व हिंदी में 'राजी' रिलीज होते देखना और बॉक्स ऑफिस पर सफल होते देखना अद्भुत है। "