मुंबई : अभिनेत्री जैकलिन फर्नांडीस ने बताया कि वह हमेशा से एक एंटरटेंनर बनना चाहती थी लेकिन बॉलीवुड में आने की कोई योजना नहीं थी। अभिनेत्री ने अपने ब्लॉग पर विचार साझा किए, जो गुरुवार को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर प्रकाशित हुआ।

जैकलिन ने कहा, "बहुत कम उम्र से, मैंने हमेशा एक एंटटेनर बनने का सपना देखा था। कहानियां सुनाना चाहती थी, अपने आसपास के लोगों को हंसाना चाहती थी। फिल्मों के बारे में नहीं सोचा था लेकिन असली खुशी मनोरंजक बनने से मिलती है।"

इसे भी पढ़ें :

दीपिका और कंगना दे रही हैं पुरुष फिल्मी कलाकारों के वर्चस्व को टक्कर: सोनल चौहान

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर बॉलीवुड कलाकारों ने दी बधाई

...और जब महेश भट्ट को याद आईं श्रीदेवी

उन्होंने कहा, "बॉलीवुड में प्रवेश इत्तेफाक से हुआ। बॉलीवुड में सिर्फ मनोरंजन ही नहीं बल्कि नृत्य, अभिनय के माध्यम से अभिव्यक्ति का एक कलात्मक रूप भी है और बातचीत में हजारों की भावनाओं का हल निकालने की क्षमता भी है।" उन्होंने कहा, "आपके दर्शक आपसे जुड़ते हैं। आपके माध्यम से किरदार जीते हैं।"

जैकलिन के पिता श्रीलंका से हैं और मां मलेशिया से हैं। वह बहरीन में पली बढ़ी। 14 वर्ष की आयु में ही उन्होंने फिटनेस शो की मेजबानी की। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में स्नातक किया और फिर श्रीलंका लौटकर रिपोर्टिग की।

वर्ष 2006 में मिस श्रीलंका का खिताब जीतने के बाद वर्ष 2009 की फिल्म 'अलाद्दीन' के साथ बॉलीवुड में आगाज किया।