हैदराबाद : इस शुक्रवार, यानी कल 23 दिसंबर को रिलीज़ होने वाली आमिर खान की 'दंगल' को लेकर देश में ही नहीं बल्कि दुनिया भर में उनके फैन्स खासे उत्साहित हैं। जाहिर सी बात है इस साल की बहुत बड़ी फिल्मों में शुमार इस फिल्म को लेकर उम्मीदें भी बहुत ज्यादा हैं। इस फिल्म को देश में 4000 और विदेश में लगभग 1000 स्क्रीन्स पर रिलीज किया जा रहा है। कुश्ती पर बनी इस साल की दूसरी फिल्म है दंगल। बता दें सलमान खान की 'सुल्तान' भी कुश्ती पर बनी थी जो बॉक्स ऑफिस पर भी कामयाब थी।

20 दिसंबर को आमिर ने अपनी 'दंगल' की स्पेशल स्क्रीनिंग रखी थी। इसमें बॉलीवुड के जाने-माने सितारों के अलावा महावीरसिंह फोगाट के परिवार के लोग भी मौजूद थे। इस फिल्म का निर्देशन नितेश तिवारी ने किया जबकि आमिर खान के अलावा साक्षी तंवर, फातिमा सना शेख, सान्या मल्होत्रा और अपारशक्ति खुराना ने मुख्य किरदार निभाए।

अगर कहानी की बात की जाए तो यह फिल्म हरियाणा के एक छोटे से गांव के भूतपूर्व नेशनल कुश्ती चैंपियन महावीर सिंह फोगाट की कहानी है जिसमें महावीर की भूमिका आमिर खान ने निभाई। परिवार की कमजोर आर्थिक स्थिति के चलते महावीर अपने कैरियर पर विराम लगाकर रोजी-रोटी कमाने लग जाता है लेकिन गोल्ड मेडल न जीत पाने की पीड़ा उसे हमेशा कचोटती रहती है। और एक पुरुष प्रधान समाज में वो अपनी बेटियों को कैसे पहलवानी में उभारता है और आखिर में उसकी बेटियां कैसे कामयाबी की बुलंदियां छू जाती हैं इसे जानना बड़ा ही दिलचस्प होगा।

‘दंगल’ का दृश्य
‘दंगल’ का दृश्य

आइए, ये देखें कि 2 घंटे और 41 मिनट वाली इस फिल्म की समीक्षा किसने किस रूप में की और कितने स्टार दिए।

'आज तक' वेबसाइट पर लिखते हुए आर.जे. आलोक ने इस फिल्म को 4.5 स्टार दिए। उन्होंने इस फिल्म के बारे में लिखा, "फिल्म की पटकथा और निर्देशन लाजवाब है... फिल्म के सेकंड हाफ में जिस तरह से कहानी आगे बढ़ती है आप अपनी सीट को पकड़कर रखते हैं। क्योंकि लगता है कि आप स्टेडियम के भीतर बैठे हैं और सामने मैच चल रहा है। फिल्म के डायलॉग्स आपको इमोशनल करने के साथ-साथ हंसाते और बांधे भी रखते हैं। फिल्म एक खास मैसेज भी देती है। लड़के-लड़की के बीच अंतर करने वालों के लिए एक बड़ा सबक है।”

'नवभारत टाइम्स' के संजय मिश्रा ने भी इस फिल्म को 4.5 स्टार दिए। उन्होंने लिखा, "भारत में जहां पहलवानी पुरुष प्रधान खेल रहा है, महिलाओं को ध्यान में रखकर रेसलिंग बनाई गई यह बायॉपिक एक सराहनीय प्रयास है। इस फिल्म को बेहिचक पूरे परिवार के साथ देखा जा सकता है। शुरू में आमिर खान की 'दंगल' की तुलना सलमान खान की फिल्म 'सुल्तान' के साथ की जा रही थी, जबकि सच यह है कि दोनों ही फिल्मों के बीच कोई तुलना नहीं है।"

'एनडीटीवी' के साइबल चटर्जी इस फिल्म को चार स्टार देते हैं। वो लिखते हैं, "दंगल कमाल की फिल्म है। ये फिल्म आपको अंत तक बांधकर रख देती है।

'हिंदुस्तान टाइम्स' के रोहित वत्स लिखते हैं, "ये आमिर खान का अब तक का सर्व श्रेष्ठ अभिनय है। हां, लगान से भी बेहतर अभिनय। कैसे एक आदमी अपने ख्वाबों को अपनी बेटियों के जरिए पूरा करवा लेता है। वो रोता है, गुस्साता है, बूढ़ा और थका हुआ दिखता है लेकिन फिर भी हममें से एक लगता है। जब वो हताशा में अपना सिर हिला देता है तो आप उसमें एक पिता को देखेंगे।"

इसके अलावा बॉलीवुड के कुछ प्रमुखों ने ट्वीट कर 'दंगल' पर अपनी राय व्यक्त की: