Thu Jun 21, 2018 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
मध्य प्रदेश के मुरैना में कार व ट्रैक्टर की टक्कर, 12 लोगों की मौत 
वाईएस जगनमोहन रेड्डी की 2,400 किलोमीटर पदयात्रा पूर्ण
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने को लेकर संयुक्त राष्ट्र में प्रधानमंत्री का प्रस्ताव ऐतिहासिक : उत्तराखंड के मुख्यमंत्री 
फीफा वर्ल्ड कप: स्पेन ने ईरान को 1-0 से हराया 
रामदेव बाबा राजस्थान में 2.5 लाख लोगों के साथ योग कर बनाएंगे विश्व रिकार्ड 

संपादक की पसंद

देश और दुनिया के इतिहास में 21 जून 
संपादक की पसंद

देश और दुनिया के इतिहास में 21 जून 

भारत पर दो सौ साल से भी ज्यादा लंबा शासन करने वाले अंग्रेजों को भारत के एक नवाब ने नाकों चने चबवा दिये थे। इतिहास में 21 मई का दिन इसी लड़ाई, उसके बाद अंग्रेजों के आत्मसमर्पण और उनके 100 से ज्यादा लोगों के मारे जाने के नाम दर्ज है।

फेल हो गई मोदी की कश्मीर नीति, नए तरीके से हैंडल होगा कश्मीर
संपादक की पसंद

फेल हो गई मोदी की कश्मीर नीति, नए तरीके से हैंडल होगा कश्मीर

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कश्मीर नीति आखिरकार टुकड़ों में बिखर गई है। वास्तव में उनकी कश्मीर नीति पर कायदे से अमल नहीं किया गया। मुफ्ती मोहम्मद सईद की अध्यक्षता वाली पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के साथ भाजपा का गठबंधन उच्च आदर्शों को दिखाने वाला था।

 किसानों की समस्याएं खोज नहीं पाए या खोजना नहीं चाहते?  
संपादक की पसंद

किसानों की समस्याएं खोज नहीं पाए या खोजना नहीं चाहते?  

किसान गरीब क्यों? किसान परिवार में आत्महत्या क्यों? इन सवालों का जवाब दशकों से ढूंढा जा रहा है। बड़े-बड़े रिपोर्ट तैयार किए गए। कई लागू किए गए। लेकिन आजतक किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए जो उपाय किए गए उससे समाधान नहीं हुआ बल्कि संकट गहराता जा रहा है।

शुजात बुखारी : कश्मीर में शांति चाहने वाला एक दिलेर पत्रकार
संपादक की पसंद

शुजात बुखारी : कश्मीर में शांति चाहने वाला एक दिलेर पत्रकार

शुजात बुखारी सिर्फ एक नाम नहीं बल्कि कश्मीरियत, जम्हूरियत और इंसानियत के सार थे, शुजात का मतलब ही होता है ‘बहादुर’, जैसा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने कश्मीर के लोगों से वादा किया था।

इस तरह गांवों में बैठकर ऑनलाइन कर सकते हैं आईएएस की तैयारी
संपादक की पसंद

इस तरह गांवों में बैठकर ऑनलाइन कर सकते हैं आईएएस की तैयारी

आईएएस और आईपीएस बनकर देश की सेवा करने की ख्वाहिश रखने वाले ग्रामीण युवाओं के लिए साधन की कमी अब बाधक नहीं बन सकती है क्योंकि वे सुदूर देहात में भी बैठकर सुकून से यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं।

17 जून : फ्रांस से तोहफे में मिला स्टेच्यू आफ लिबर्टी आज ही पहुंचा था अमेरिका
संपादक की पसंद

17 जून : फ्रांस से तोहफे में मिला स्टेच्यू आफ लिबर्टी आज ही पहुंचा था अमेरिका

अमेरिका की पहचान माना जाने वाला स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी दरअसल अमेरिका को फ्रांस की तरफ से तोहफे में मिला था और यह 17 जून के ही दिन अमेरिका को सौंपा गया था।

15 जून: आज ही भारत-पाक बंटवारे की पड़ी थी नींव, लाखों का हुआ था कत्लेआम
संपादक की पसंद

15 जून: आज ही भारत-पाक बंटवारे की पड़ी थी नींव, लाखों का हुआ था कत्लेआम

बंटवारे को देश के इतिहास की सबसे दुखद घटनाओं में शुमार किया जाता है। रातों रात लाखों लोगों की तकदीर बदल गई। 15 जून को ही बंटवारे की नींव पड़ी थी। 

क्या भारत-पाकिस्तान के नेता ट्रंप और किम से कुछ सीख सकते हैं..? 
संपादक की पसंद

क्या भारत-पाकिस्तान के नेता ट्रंप और किम से कुछ सीख सकते हैं..? 

सिंगापुर समिट में उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को आपस में हाथ मिलाते देख कई वरिष्ठ भारतीयों और पाकिस्तानियों के दिमाग में यही प्रश्न उठा होगा।

अब वाईएस जगनमोहन रेड्डी नाम की ‘आंधी’ को रोक नहीं पाएंगे टीडीपी सुप्रीमो चंद्रबाबू
संपादक की पसंद

अब वाईएस जगनमोहन रेड्डी नाम की ‘आंधी’ को रोक नहीं पाएंगे टीडीपी सुप्रीमो चंद्रबाबू

वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सुप्रीमो वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने मंगलवार को उस वक्त इतिहास रच दिया जब उन्होंने देश की सबसे लंबे रेल कम रोड ब्रिज पर हजारों समर्थकों व पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ चलकर पूर्वी गोदावरी जिले में प्रवेश किया। गोदावरी नदी में जैसे-जैसे जलप्रवाह बढ़ रहा था वैसे-वैसे ब्रिज पर हजारों की संख्या में जनसैलाब उमड़ रहा था।

मध्य प्रदेश में लड़कियों ने हक पाने को रखा उपवास
संपादक की पसंद

मध्य प्रदेश में लड़कियों ने हक पाने को रखा उपवास

मध्य प्रदेश में ऊंचाई कम होने के कारण पुलिस में भर्ती से बाहर की गईं लड़कियों ने सोमवार को राजधानी के शाहजहांनी पार्क में सामूहिक उपवास रखा। साथ ही ऐलान किया कि जब तक उन्हें न्याय नहीं मिलता, तब तक उनका क्रमिक उपवास जारी रहेगा। 

नागपुर में संबोधन से RSS व कांग्रेस दोनों को सबक दे गए प्रणब मुखर्जी  
संपादक की पसंद

नागपुर में संबोधन से RSS व कांग्रेस दोनों को सबक दे गए प्रणब मुखर्जी  

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने बीते गुरुवार को नागपुर में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के कार्यक्रम के दौरान एक सच्चे कांग्रेसी की तरह आपकी उनके संबोधन दिया।

राष्ट्रपति भवन और PMO भी पूरी तरह सेफ नहीं है कामकाजी महिलाओं के लिए: RTI खुलासा
समाचार

राष्ट्रपति भवन और PMO भी पूरी तरह सेफ नहीं है कामकाजी महिलाओं के लिए: RTI खुलासा

आरटीआई में दी गई सूचना के अनुसार, पीएमओ व राष्ट्रपति भवन स्थित राष्ट्रपति सचिवालय भी कामकाजी महिलाओं के लिए पूरी तरह सुरक्षित नहीं हैं।

‘सड़क सुरक्षा’ को बनाया जीवन का मिशन
समाचार

‘सड़क सुरक्षा’ को बनाया जीवन का मिशन

उत्तर प्रदेश की राजधानी स्थित संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट आयुर्विज्ञान संस्थान (SGPGI) के एक वरिष्ठ अधिकारी पिछले आठ साल से सड़क सुरक्षा एवं सुरक्षा जागरूकता अभियान चला रहे हैं। वर्ष 2010 में एक सड़क दुर्घटना में अपने एकलौते बेटे को खोने के बाद अब वह नहीं चाहते कि किसी और परिवार का चिराग सड़क सुरक्षा जागरूकता के अभाव में बुझे।

ओडिशा: समस्याओं के बावजूद सुरक्षित है नवीन पटनायक की कुर्सी
समाचार

ओडिशा: समस्याओं के बावजूद सुरक्षित है नवीन पटनायक की कुर्सी

हैदराबाद की पीपुल्स पल्स राजनीतिक शोध संस्था ने उड़ीसा में करीब 2000 किलोमीटर की यात्रा कर लोगों का सियासी मूड भांपने की कोशिश की।

चंद्रबाबू के 4 साल : जानिए कौन बेहाल..कौन खुशहाल
संपादक की पसंद

चंद्रबाबू के 4 साल : जानिए कौन बेहाल..कौन खुशहाल

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू के 4 साल के कार्यकाल धोखाधड़ी, राजनीतिक विवाद और तमाम तरह के आरोप-प्रत्यारोप से घिरे रहे।

आज ही के दिन एमएफ हुसैन ने दुनिया को कहा था अलविदा, जानिए उनसे जुड़ी कुछ खास बातें 
संपादक की पसंद

आज ही के दिन एमएफ हुसैन ने दुनिया को कहा था अलविदा, जानिए उनसे जुड़ी कुछ खास बातें 

भारत के प्रसिद्ध आधुनिक चित्रकार एमएफ हुसैन ने आज ही के दिन दुनिया को अलविदा कहा था। एमएफ हुसैन को पहली बार राष्ट्रीय स्तर पर पहचान 1940 के दशक के आखिर में मिली। 

राहुल राज में कांग्रेस में बड़े बदलाव के संकेत, आम कार्यकर्ताओं को मिलेगा भाव
समाचार

राहुल राज में कांग्रेस में बड़े बदलाव के संकेत, आम कार्यकर्ताओं को मिलेगा भाव

कांग्रेस के राष्ट्रीय सम्मलेन में राहुल गांधी का कार्यकर्ताओं के लिए मंच को खाली करा देना, फिर मंदसौर में कार्यकर्ताओं को पार्टी की असली ताकत बताना, इस बात को तो संकेत दे ही गया है कि अब कांग्रेस बदल रही है।

दुनिया के रंगमंच को हबीब तनवीर ने आज ही कहा था अलविदा 
संपादक की पसंद

दुनिया के रंगमंच को हबीब तनवीर ने आज ही कहा था अलविदा 

दुनिया एक रंगमंच है और यहां हर कोई अपनी भूमिका निभाने आया है। बहुत से लोग अपनी भूमिका अच्छे से निभा पाते हैं और अपना नाम इतिहास में दर्ज हो जाता है। इस रंगमंच के ऐसे ही एक फनकार थे हबीब तनवीर।

आज ही दिन चीन के थ्येनआनमन चौक पर निहत्थे नागरिकों पर टूटा था कहर 
समाचार

आज ही दिन चीन के थ्येनआनमन चौक पर निहत्थे नागरिकों पर टूटा था कहर 

इतिहास में हर दिन किसी न किसी अहम घटना से जुड़ा होता है। चार जून एक ऐसी तारीख है जिस दिन कई बड़ी घटनाओं ने देश और दुनिया पर अपनी छाप छोड़ी।

‘रजकरत्न’ पुरस्कार प्रदान, रजकों को एससी सूची में शामिल करने का आग्रह
समाचार

‘रजकरत्न’ पुरस्कार प्रदान, रजकों को एससी सूची में शामिल करने का आग्रह

आंध्रा-तेलंगाना रजक धोबी अभिवृद्धि संस्था की ओर से ‘रजकरत्न’ पुरस्कार’ प्रदान कार्यक्रम चिक्कड़पल्ली स्थित श्री त्यागरायगान सभा में आयोजित किय गया। अवसर पर श्रीदेवी (अमेरिका) ने भक्ति गीत पेश किये।

तेलंगाना के स्कूलों में हाजिरी के लिए अनूठी प्रणाली विकसित
समाचार

तेलंगाना के स्कूलों में हाजिरी के लिए अनूठी प्रणाली विकसित

तेलंगाना राज्य प्रौद्योगिकी सेवा (टीएसटीएस) ने हाजिरी की निगरानी के लिए एक अनूठी प्रणाली विकसित की है। इसके जरिए स्कूलों और अन्य स्थानों पर सही समय में हाजिरी की निगरानी की जा सकती है।

स्थापना दिवस पर बड़ा सवाल :  TRS की योजनाओं से क्या पूरे हो सकते हैं शहीदों के सपने...! 
समाचार

स्थापना दिवस पर बड़ा सवाल : TRS की योजनाओं से क्या पूरे हो सकते हैं शहीदों के सपने...! 

तेलंगाना गठन केवल भौगोलिक रूप से हुआ है। मगर पृथक तेलंगाना के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वालों का तेलंगाना अब भी दूर है। आइए तेलंगाना के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वालों के सपनों साकार करने में अपना योगदान देने के लिए आगे बढ़ें।

बोधगया ब्लास्ट: गुनहगारों को अंजाम तक पहुंचाने में IPS विकास वैभव का बड़ा हाथ 
समाचार

बोधगया ब्लास्ट: गुनहगारों को अंजाम तक पहुंचाने में IPS विकास वैभव का बड़ा हाथ 

बोधगया ब्लास्ट के फैसले को लेकर बौद्ध भिक्षुओं ने प्रसन्नता व्यक्त की है। खासकर NIA की पुख्ता जांच और तब जांच टीम का नेतृ्तव कर रहे अधिकारी विकास वैभव की सब सराहना कर रहे हैं।

क्या मुस्लिम मतदाताओं का नीतीश से मोहभंग हो चुका है?
समाचार

क्या मुस्लिम मतदाताओं का नीतीश से मोहभंग हो चुका है?

‘सोशल इंजीनियर’ में माहिर समझे जाने वाले और इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुके बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल (युनाइटेड) की जोकीहाट उपचुनाव में करारी हार के बाद बिहार की सियासी फिजा में यह सवाल तैरने लगा है कि क्या मुस्लिमों का नीतीश से मोहभंग हो गया है?

 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के ध्वज को आज ही अंगीकार किया गया था   
समाचार

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के ध्वज को आज ही अंगीकार किया गया था   

यूं तो साल के सभी 365 दिन महत्वपूर्ण होते हैं और हर दिन किसी न किसी वजह से इतिहास के पन्नों में दर्ज है। आज साल के पांचवें महीने का अंतिम दिन है और यह भी बहुत सी घटनाओं के साथ इतिहास में बंद है।

 सही करियर के लिए कौन से कॉलेज का चयन करें, जानें यहां
समाचार

सही करियर के लिए कौन से कॉलेज का चयन करें, जानें यहां

सही करियर के लिए कौन से कॉलेज का चयन करें, इस विषय को लेकर छात्रों के बीच हमेशा उलझन रहती है, जिसके लिए ‘यूथ4वर्क’ आपको अपने करियर को बेहतर बनाने के लिए अपनी प्रतिभा के विकास में मदद करता है।

आज ही के दिन शुरू हुआ था पहले हिन्दी साप्ताहिक पत्र का प्रकाशन 
संपादक की पसंद

आज ही के दिन शुरू हुआ था पहले हिन्दी साप्ताहिक पत्र का प्रकाशन 

हिन्दी पत्रकारिता के इतिहास में आज का दिन सुनहरे अक्षरों में लिखा गया है। आज ही के दिन जुगलकिशोर शुक्ल ने दुनिया के पहला हिन्दी साप्ताहिक पत्र “उदन्त मार्तण्ड” का प्रकाशन कलकत्ता से शुरू किया था

 भदोही में मौजूद है शेरशाह सूरी का बनवाया कुआं 
संपादक की पसंद

भदोही में मौजूद है शेरशाह सूरी का बनवाया कुआं 

उत्तर प्रदेश के भदोही जिले के औराई में राष्ट्रीय राजमार्ग पर सैकड़ों वर्ष पूर्व मुगल शासक शेरशाह सूरी की तरफ से बनवाया गया ऐतिहासिक कुआं आज भी मौजूद है।

 एडमंड हिलेरी और तेनजिंग नॉर्गे ने आज ही के दिन फतह किया था एवरेस्ट  
संपादक की पसंद

एडमंड हिलेरी और तेनजिंग नॉर्गे ने आज ही के दिन फतह किया था एवरेस्ट  

देश और दुनिया के इतिहास में आज का दिन कई वजहों से खास है। दरअसल 29 मई, 1953 के दिन दो लोगों ने वह कारनामा कर दिया जो अब तक सपना ही बना हुआ था।

अशफाक ने तोड़ा रोजा, 2 दिन की बच्ची की इस तरह बचाई जान
समाचार

अशफाक ने तोड़ा रोजा, 2 दिन की बच्ची की इस तरह बचाई जान

बिहार के दरभंगा में सांप्रदायिक सौहार्द्र की अनूठी मिसाल देखने को मिली। यहां एक युवक ने रमजान के पाक महीने में रोजा तोड़ दिया। दरअसल अशफाक ने रोजा तोड़कर अपने मानवीय धर्म का पालन किया।

28 मई : नेपाल में आज ही के दिन हुआ था 240 बरस पुरानी राजशाही का अंत
समाचार

28 मई : नेपाल में आज ही के दिन हुआ था 240 बरस पुरानी राजशाही का अंत

देश और दुनिया के इतिहास में 28 मई का दिन कई कारणों से खास है। दरअसल नेपाल में 240 सालों से चली आ रही राजशाही का अंत इसी दिन हुआ था।

 यहां नहीं कह सकते, ‘तेरी सूरत से नहीं मिलती किसी की सूरत’   
समाचार

यहां नहीं कह सकते, ‘तेरी सूरत से नहीं मिलती किसी की सूरत’   

किसी शायर ने क्या खूब कहा है, ‘‘तेरी सूरत से नहीं मिलती किसी की सूरत, हम जहां में तेरी तस्वीर लिए फिरते हैं...’’ लेकिन केरल में एक गांव ऐसा है जो इस बात को झूठ साबित कर रहा है क्योंकि यहां चार सौ से ज्यादा लोग ऐसे हैं, जिनके जुड़वां चेहरे इस गांव में ही मौजूद हैं।

मोदी सरकार के 4 साल, एकजुट विपक्ष आक्रामक
समाचार

मोदी सरकार के 4 साल, एकजुट विपक्ष आक्रामक

कर्नाटक में पार्टी के ‘विजयरथ’ पर लगी लगाम और इस साल के अंत में उत्तर भारत के तीन बड़े राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में सत्ता हासिल करने के सपने के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार अपने कार्यकाल के अंतिम वर्ष में प्रवेश कर चुकी है, जहां कई चुनावी वादे पूरे करने के बढ़ते भार ने उनकी राजनीतिक गति को थोड़ा धीमा किया है।

 शहजादे सलीम ने आज ही के दिन मेहरून्निसा से किया था निकाह 
संपादक की पसंद

शहजादे सलीम ने आज ही के दिन मेहरून्निसा से किया था निकाह 

मुगल सल्तनत की कई कहानियां मशहूर हुई हैं, जिनमें सलीम और अनारकली की प्रेम कहानी से इस पीढ़ी के शायद सबसे ज्यादा लोग वाकिफ हैं।

जन्मदिन विशेष: उर्दू है जिसका नाम, हमीं जानते हैं दाग
समाचार

जन्मदिन विशेष: उर्दू है जिसका नाम, हमीं जानते हैं दाग

25 मई 1831 को मशहूर शायर दाग दहलवी का जन्म हुआ था। इस मौके पर हम आपको उनसे जुड़े कुछ किस्से और यादों से रू-ब-रू करा रहे हैं। साथ में उनकी हर दिल अजीज़ शायरियां भी होंगी।

सचमुच, ‘किंग’ साबित हुए कुमारस्वामी
समाचार

सचमुच, ‘किंग’ साबित हुए कुमारस्वामी

कर्नाटक जद(एस) प्रमुख एच डी.कुमारस्वामी ने चुनाव से पहले दावा किया था कि वह ‘किंगमेकर’ नहीं बल्कि ‘किंग’ होंगे। उनकी यह बात सही साबित हुई और अपनी पार्टी को कर्नाटक विधानसभा चुनाव में मात्र 37 सीटें मिलने के बावजूद वह राज्य के मुख्यमंत्री बने।